//]]>
---Third party advertisement---

बिहार के इन स्कूलों को देना होगा 50 हजार का जुर्माना, जानिए क्या है वजह..

 


बिहार के निजी स्कूलों के लिए काम की खबर है। सीबीएसई ने सभी निजी स्कूलों को शिक्षकों की सही जानकारी उपलब्ध कराने को कहा है। सीबीएसई से मान्यता प्राप्त जो स्कूल शिक्षकों की सही जानकारी नहीं देंगे उनपर बोर्ड 50 हजार रुपए का जुर्माना लगाएगा। बोर्ड ने इसकी सूचना पहले ही सभी स्कूलों को दे दिया था। स्कूलों द्वारा शिक्षकों की सही जानकारी नहीं देने के कारण 10वीं और 12वीं के मूल्यांकन में आ रही दिक्कतों को देखते हुए सीबीएसई ने यह निर्णय लिया है।

दरअसल, 10वीं और 12वीं की परीक्षा के मूल्यांकन ने हो आ रही दिक्कतों को देखते हुए सीबीएसई ने बिहार के सभी स्कूलों को शिक्षकों की सही जानकारी उपलब्ध कराने का निर्देश दिया था। बोर्ड के मुताबिक हर साल ऐसे स्कूलों की जानकारी मिलती है, जो ऐसे शिक्षकों को मूल्यांकन के लिए भेज देते हैं जो स्कूल में कार्यरत ही नहीं होते हैं। जिससे मूल्यांकन कार्य में परेशानी आती है। इसको लेकर इस बार बोर्ड काफी सख्त है।

बता दें कि स्कूल प्रबंधन स्कूलों की वेबसाइट को अपडेट करने में लापरवाही बरते हैं। ज्यादातर स्कूल ऐसे शिक्षकों को मूल्यांकन के लिए भेजते हैं जो स्कूल में कार्यरत नहीं होते हैं। जिससे मूल्यांकन कार्य प्रभावित होता है। ऐसे में इस बाद बोर्ड ने ऐसे स्कूलों पर नकेल कसने की तैयारी की है। इस बार सीबीएसई ने स्कूलों को साफ तौर पर कह दिया है कि जो स्कूल शिक्षकों की सही जानकारी नहीं देंगे उनपर 50 हजार का जुर्माना लगाया जाएगा।

Post a Comment

0 Comments