//]]>
---Third party advertisement---

250 रुपये में खुलवाएं ये सरकारी खाता, बेटी को गारंटीड मिलेगा 15 लाख का फायदा!

 


Sukanya Samriddhi Yojana : बेटी के भव‍िष्‍य की च‍िंता आपको ही करनी होगी. उसके फ्यूचर को ध्‍यान में रखते हुए आपको आज से ही प्‍लान‍िंग करनी होगी. अगर आप अभी तक उसके भव‍िष्‍य के ल‍िए कोई सेव‍िंग शुरू नहीं कर पाएं हैं तो महज 250 रुपये में सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) का खाता खोल सकते हैं. इस सरकारी योजना में आप शानदार रिटर्न कमाने के साथ टैक्स की बचत भी कर सकते है.

क्या है सुकन्या समृद्धि योजना?
सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) बेट‍ियों के ल‍िए शुरू की गई जमा योजना है. इस योजना के तहत 10 वर्ष या उससे कम उम्र की लड़की के अभिभावक या माता-पिता खाता खोल सकते हैं. योजना के तहत, आप सालाना न्यूनतम 250 रुपये और अधिकतम 1.5 लाख रुपये जमा कर सकते हैं. इस खाते को खुलवाने से आपको बेटी की पढ़ाई आद‍ि पर भव‍िष्‍य में होने वाले खर्च पर राहत म‍िलेगी.

कहां खुलेगा यह खाता?
सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) का खाता आप क‍िसी पोस्ट ऑफिस या कमर्शियल ब्रांच की अधिकृत शाखा में खुलवा सकते हैं. योजना के तहत बच्ची के जन्म लेने के 10 साल के अंदर आप यह खाता कम से कम 250 रुपये जमा करके खुलवा सकते हैं.

क‍िन दस्‍तावेजों की होगी जरूरत?
एक व‍ित्‍त वर्ष में आप इस खाते में न्‍यूनतम 250 रुपये और अध‍िकत 1.5 लाख रुपये तक जमा करा सकते हैं. खाता खुलवाने के लिए फॉर्म के साथ पोस्ट ऑफिस / बैंक में बेटी का बर्थ सर्टिफिकेट जमा कराना होगा. इसके साथ बच्ची और माता-पिता की फोटो आईडी देनी होगी.

मैच्योर‍िटी और ब्‍याज
जब आप यह खाता खुलवाते हैं तो उस डेट से 21 साल बाद या बेटी के 18 साल होने पर शादी के समय (शादी की तारीख से 1 महीना पहले या तीन महीने बाद) खाता मैच्‍योर होता है. इस योजना के तहत खोले जाने वाले खाते पर 7.6 फीसदी सालाना ब्याज है.

कैसे म‍िलेगा 15 लाख का फायदा
यद‍ि आप इस योजना के तहत हर महीने 3 हजार रुपये का निवेश करते हैं तो आपका सालाना 36000 रुपये का न‍िवेश हो गया. 14 साल बाद 7.6 प्रत‍िशत की कंपाउंडिंग के हिसाब से 9,11,574 रुपये हुए. बेटी की उम्र 21 साल होने पर यह रकम मेच्योरिटी पर करीब 15,22,221 रुपये हो जाएगी. 
महिलाओं के सारे राज खोल देते हैं ये 2 अंग , जानिये उनकी हर छुपी हुई ख़ास बात

Shimla, Mandi, Kangra, Chamba, Himachal, Bihar, Muzaffarpur, East Champaran, Kanpur, Darbhanga, Samastipur, Nalanda, Patna, Muzaffarpur, Jehanabad, Patna, Nalanda, Araria, Arwal, Aurangabad, Katihar, Kishanganj, Kaimur, Khagaria, Gaya, Gopalganj, Jamui, Jehanabad, Nawada, West Champaran, Purnia, East Champaran, Buxar, Banka, Begusarai, Bhagalpur, Bhojpur, Madhubani, Madhepura, Munger, Rohtas, Lakhisarai, Vaishali, Sheohar, Sheikhpura, Samastipur, Saharsa, Saran, Sitamarhi, Siwan, Supaul,Gujarat, Ahmedabad, Vadodara, Surat, Rajkot, Vadodara, Junagadh, Anand, Jamnagar, Gir Somnath, Mehsana, Kutch, Sabarkantha, Amreli, Kheda, Rajkot, Bhavnagar, Aravalli, Dahod, Banaskantha, Gandhinagar, Bhavnagar, Jamnagar, Valsad, Bharuch , Mahisagar, Patan, Gandhinagar, Navsari, Porbandar, Narmada, Surendranagar, Chhota Udaipur, Tapi, Morbi, Botad, Dang, Rajasthan, Jaipur, Alwar, Udaipur, Kota, Jodhpur, Jaisalmer, Sikar, Jhunjhunu, Sri Ganganagar, Barmer, Hanumangarh, Ajmer, Pali, Bharatpur, Bikaner, Churu, Chittorgarh, Rajsamand, Nagaur, Bhilwara, Tonk, Dausa, Dungarpur, Jhalawar, Banswara, Pratapgarh, Sirohi, Bundi, Baran, Sawai Madhopur, Karauli, Dholpur, Jalore,Haryana, Gurugram, Faridabad, Sonipat, Hisar, Ambala, Karnal, Panipat, Rohtak, Rewari, Panchkula, Kurukshetra, Yamunanagar, Sirsa, Mahendragarh, Bhiwani, Jhajjar, Palwal, Fatehabad, Kaithal, Jind, Nuh,

Post a Comment

0 Comments