//]]>
---Third party advertisement---

हमीरपुर के मृदुल चौक पर कभी भी हो सकता है बड़ा हादसा





स्थानीय लोगों ने स्पीड ब्रेकर लगाने की उठाई मांग, चौक में कोर्ट परिसर से भी दिन भर रहता है गाडिय़ों का आना-जाना

मंगलेश कुमार -हमीरपुर
हमीरपुर के मृदुल चौक पर कभी भी बड़ा हादसा घट सकता है। यहां पर वाहनों की तेज रफ्तार कभी भी लोगों पर भारी पड़ सकती है। इसके अलावा कोर्ट परिसर की तरफ से आने वाले वाहन भी चौक पर दुर्घटना का शिकार हो सकते हैं। ऐसे में अणु से हमीरपुर की तरफ आने वाले सड़क मार्ग पर स्पीड ब्रेकर लगाने की मांग लोगों द्वारा की जा रही है, ताकि समय रहते हादसा होने से बचाया जा सके। मृदुल चौक हमीरपुर में कभी भी वाहनों की टक्कर हो सकती है, क्योंकि अणु से हमीरपुर की तरफ जो भी वाहन आते हैं, वे काफी तेज रफ्तार में होते हैं। ऊपर से उतराई व तीखा मोड़ होने के चलते वाहनों की रफ्तार वैसे ही बढ़ जाती है। मृदुल चौक में कोर्ट परिसर की तरफ से भी वाहनों की आवाजाही का सिलसिला भी दिन भर जारी रहता है। ऐसे में मृदुल चौक पर वाहनों की टक्कर होने की ज्यादा संभावना रहती है।


हालांकि यातायात पुलिस ने जरूर चौक पर होमगार्ड तैनात कर रखा है, लेकिन कई बार उन्हें भी वाहन रोकने में काफी मुश्किलें झेलनी पड़ती है। लोगों ने जिला प्रशासन व पीडब्ल्यूडी से मृदुल चौक के पास स्पीड ब्रेक लगाने की मांग की है, ताकि समय रहते बड़ा हादसा होने से बचाया जा सके। अगर उतराई वाली सड़क पर चौक से ठीक पहले स्पीड बे्रकर लगा दिए जाएं, तो वाहनों की स्पीड अपने आप ही कम हो जाएगी और चौक पर वाहनों के टकराने का खतरा टल जाएगा। काबिलेगौर रहे कि उपायुक्त गेट से लेकर बीएसएनएल आफिस तक का मार्ग भी पैदल चलने वालों के लिए किसी खतरे से खाली नहीं है। सड़क किनारे काफी कम जगह पैदल चलने वालों के लिए छोड़ी गई है। ऐसे में सबसे ज्यादा दिक्कत बुजुर्गों व बच्चों वाली महिलाओं को झेलनी पड़ रही है। स्थानीय लोग सड़क के दूसरी ओर भी फुटपाथ बनाने की मांग कर रहे हैं, ताकि वे आराम से शहर में आ-जा सकें, वहीं पीडब्ल्यूडी विभाग के अधिशाषी अभियंता विवेक शर्मा का कहना है कि समस्या उनके ध्यान में आ गई है। जल्द ही समस्या का समाधान किया जाएगा, ताकि मृदुल चौक पर समय रहते हादसा होने से बचाया जा सके।

Post a Comment

0 Comments