बिहार मे अब इस नए तकनीक से सड़को की देख-भाल होगी, जानिए विस्तार से

 


पथ निर्माण विभाग ने तय किया है कि वह अपनी सड़कों के रखरखाव की मानीटरिंग में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की मदद लेगा। विभाग की 90 फीसद सड़के रखरखाव के लिए रोड मेंटेनेंस पालिसी के तहत निर्माण एजेंसियों को दिया हुआ है। ऐसे में विभाग के माध्यम से इनके रखरखाव में तकनीकी पेच है। वैसे दस प्रतिशत सड़क अब भी इस श्रेणी में है, जिन्हें रखरखाव के लिए निर्माण एजेंसी को नहीं दिया गया है। ऐसे में संभव है कि उन जगहों पर सड़कों का रखरखाव विभाग अपने माध्यम से कराए।

इस तरह आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की मदद

पथ निर्माण विभाग के अधिकारियों का कहना है कि काफी पहले से ही सड़कों के रखरखाव की मानीटङ्क्षरग में सूचना प्रौद्योगिकी (आइटी) का इस्तेमाल होता रहा है। नियमित रिपोर्ट भी मिलती रही है। इस बीच बहुत जगहों से यह खबर आई है कि सड़कों के रखरखाव में गुणवत्ता का अनुपालन नहीं हो रहा। इसलिए योजना यह है कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का इस्तेमाल पर सड़कों के रखरखाव की जानकारी ली जाए। बगैर किसी की जानकारी के इस माध्यम से सड़कों की स्थिति पर रिपोर्ट बनेगी। इसके तहत सड़कों के निरीक्षण में ऐसे साफ्टवेयर और टूल्स का इस्तेमाल किया जाएगा जिसके माध्यम से तत्क्षण सड़कों के हाल का अपडेट मिलेगा। रिपोर्ट बनाने की आवश्यकता नहीं होगी। इस व्यवस्था को आउटसोर्स करने की तैयारी है।

– सड़कों के रखरखाव के लिए अब आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की मदद

– पथ निर्माण विभाग की 90 फीसद सड़कें रखरखाव के लिए निर्माण एजेंसियों के जिम्मे

– ऐसे में 2025-26 तक इनका रखरखाव विभाग से कराने में तकनीकी पेंच

– मुजफ्फरपुर और शेरघाटी की सड़क का रखरखाव विभाग के माध्यम से संभव

2025-26 तक निर्माण एजेंसियों के पास है मेंटेनेंस का काम

सड़कों के रखरखाव का जिम्मा निर्माण एजेंसियों के पास 2025-26 तक है। ऐसे में इनके करार को खत्म करने में तकनीकी पेच है। इसलिए संभव है कि पथ निर्माण विभाग की 90 फीसद सड़कों का रखरखाव उक्त अवधि तक विभाग के माध्यम से नहीं हो पाए। इन्हे भी जरूर पढ़ें

Shimla, Mandi, Kangra, Chamba, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, #बिहार, #मुजफ्फरपुर, #पूर्वी चंपारण, #कानपुर, #दरभंगा, #समस्तीपुर, #नालंदा, #पटना, #मुजफ्फरपुर, #जहानाबाद, #पटना, #नालंदा, #अररिया, #अरवल, #औरंगाबाद, #कटिहार, #किशनगंज, #कैमूर, #खगड़िया, #गया, #गोपालगंज, #जमुई, #जहानाबाद, #नवादा, #पश्चिम चंपारण, #पूर्णिया, #पूर्वी चंपारण, #बक्सर, #बांका, #बेगूसराय, #भागलपुर, #भोजपुर, #मधुबनी, #मधेपुरा, #मुंगेर, #रोहतास, #लखीसराय, #वैशाली, #शिवहर, #शेखपुरा, #समस्तीपुर, #सहरसा, #सारण #सीतामढ़ी, #सीवान, #सुपौल,

Post a Comment

Previous Post Next Post