//]]>
---Third party advertisement---

पटना मेट्रो के डिपो निर्माण का विरोध, जानिए क्या है मामला

 


राजधानी पटना में मेट्रो निर्माण कार्य सुगमता से चल रहा है। लेकिन इस मेट्रो डिपो के निर्माण के लिए जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया में विरोध का सामना करना पड़ रहा है। वार्ड संख्या 56 के पहाड़ी गांव के निवासियों ने बुधवार को पटना मेट्रो डिपो निर्माण के लिए पहुंचे अधिकारियों के दल का विरोध किया। ग्रामीणों के विरोध को देखते हुए अधिकारी पीछे हट गए। जानकारी के अनुसार अधिकारी गण पटना मेट्रो के प्रस्तावित डिपो के निर्माण के लिए स्थल निरीक्षण करने पहाड़ी गांव पहुंचे थे।

जमीन देने को तैयार नहीं है ग्रामीण।

ग्रामीणों का कहना है कि पहाड़ी मौजा में अनेक लोगों ने रहने के लिए मकान बनाया और कईयों ने मकान बनाने के लिए जमीन ले रखी है। ऐसे में सरकारी अधिग्रहण से सभी लोग बेघर व वंचित हो जाएंगे। ग्रामीणों ने चेतावनी दी है कि किसी भी कीमत पर जमीन नहीं देंगे। के विरोध के बाद अधिकारीगण बिना निरीक्षण के ही वापस लौट आए।

ग्रामीणों का कहना है कि सरकार अगर क्षेत्र का विकास करना ही चाहती है तो पहाड़ी से 2 किलोमीटर दूर संपतचक में करें या अब्दुल्लाह चक मौजा या फिर रामचक बौरिया के कचरा डिपो में किया जाए। जिससे शहर का विकास भी होगा और लोगों का विरोध भी नहीं होगा। 

    Shimla, Mandi, Kangra, Chamba, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, #बिहार, #मुजफ्फरपुर, #पूर्वी चंपारण, #कानपुर, #दरभंगा, #समस्तीपुर, #नालंदा, #पटना, #मुजफ्फरपुर, #जहानाबाद, #पटना, #नालंदा, #अररिया, #अरवल, #औरंगाबाद, #कटिहार, #किशनगंज, #कैमूर, #खगड़िया, #गया, #गोपालगंज, #जमुई, #जहानाबाद, #नवादा, #पश्चिम चंपारण, #पूर्णिया, #पूर्वी चंपारण, #बक्सर, #बांका, #बेगूसराय, #भागलपुर, #भोजपुर, #मधुबनी, #मधेपुरा, #मुंगेर, #रोहतास, #लखीसराय, #वैशाली, #शिवहर, #शेखपुरा, #समस्तीपुर, #सहरसा, #सारण #सीतामढ़ी, #सीवान, #सुपौल,

Post a Comment

0 Comments