//]]>
---Third party advertisement---

पटना आ रही फ्लाइट में सवार 170 लोगों की ऐसे बची जिंदगी, जानिए आखिर हुआ क्या था

 


महज कुछ सौ मीटर ऊंचे पहाड़ों पर चढ़ते ही सांस लेने में दिक्‍कत होने लगती है। आक्‍सीजन की कमी से दम फूलने लगता है। सोचिए कि जब 30 हजार फीट की ऊंचाई पर उड़ रहे विमान में आक्‍सीजन खत्‍म होने लगे तो क्‍या होगा? गुजरात की राजधानी अहमदाबाद से बिहार की राजधानी पटना के लिए बुधवार को फ्लाइट पकड़ने वाले 170 लोगों ने इस खौफ को अनुभव किया, वह भी कई मिनट तक। यह तो बेहतर रहा कि विमान के क्रू मेंबर्स ने तत्‍काल फैसला लिया, एयरपोर्ट कंट्रोल अथारिटी से उनको सपोर्ट मिला और फ्लाइट की निर्धारित समय से करीब 15 मिनट पहले ही पटना एयरपोर्ट पर लैंड करा लिया गया। इसके बाद सभी की जान में जान आई।

अहमदाबाद से पटना जा रहे विमान में सवार 170 लोगों की जान उस वक्‍त सांसत में पड़ गई, जब 30 हजार फीट की ऊंचाई पर उन्‍हें सांस लेने में दिक्‍कत होने लगी। पता चला कि विमान में आक्‍सीजन की सप्‍लाई बंद हो गई है। आक्‍सीजन घटने की वजह से यात्रियों में अफरातफरी मच गई। सभी एक अज्ञात भय से सहम गए। हालांकि, फ्लाइट के क्रू मेंबर और एयर ट्रैफिक कंट्रोल की मदद से इस आकस्मिक स्थिति पर तेजी से फैसला लिया गया और सभी यात्री सुरक्षित अपने गंतव्‍य तक पहुंच गए। इस हादसे की जांच शुरू कर दी गई है।

जांच रिपोर्ट डीजीसीए को भेजेगी विमानन कंपनी

अहमदाबाद से बुधवार को पटना एयरपोर्ट आए स्पाइस जेट के विमान में आक्सीजन प्रेशर में कमी मामले की जांच शुरू कर दी गई है। विमानन कंपनी जांच रिपोर्ट डीजीसीए को भेजेगी। पटना एयरपोर्ट प्रशासन भी घटना की पूरी जानकारी एयरपोर्ट अथारिटी आफ इंडिया के अधिकारियों से साझा करेगा। सूत्रों के मुताबिक 30 हजार फीट की ऊंचाई पर विमान में आक्सीजन का प्रेशर कम होने लगा था, जिसके बाद 10 बजकर 10 मिनट पर पाइलट ने उड़ान की इमरजेंसी लैंडिंग के लिए एटीसी से अनुरोध किया था। इसके बाद तय समय से 15 मिनट पहले उड़ान को उतारा गया था। विमान में क्रू मेंबर सहित 170 यात्री मौजूद थे।

पायलट और कर्मियों की सराहना कर रहे यात्री

जांच में पता चला है कि करीब 12 मिनट विमान में आक्सीजन प्रेशर बाधित था। समय पर उड़ान को उतारने के लिए इंटरनेट मीडिया पर यात्री पायलट व कर्मियों की सराहना कर रहे हैं। यात्री प्रसून कुमार ने ट्वीट किया है कि विमान के पायलट और क्रू मेंबर ने सूझबूझ दिखाई। ज्ञात हो कि स्‍पाइस जेट के विमान में खराबी के कारण यात्री उड़ान से मुंबई नहीं जा पाए थे। इसके कारण उन्होंने बुधवार को पटना एयरपोर्ट पर हंगामा भी किया था। 

    Shimla, Mandi, Kangra, Chamba, Himachal, Punjab, Ludhiana, Jalandhar, Amritsar, Patiala, Sangrur, Gurdaspur, Pathankot, Hoshiarpur, Tarn Taran, Firozpur, Fatehgarh Sahib, Faridkot, Moga, Bathinda, Rupnagar, Kapurthala, Badnala, Ambala,Uttar Pradesh, Agra, Bareilly, Banaras, Kashi, Lucknow, Moradabad, Kanpur, Varanasi, Gorakhpur, Bihar, Muzaffarpur, East Champaran, Kanpur, Darbhanga, Samastipur, Nalanda, Patna, Muzaffarpur, Jehanabad, Patna, Nalanda, Araria, Arwal, Aurangabad, Katihar, Kishanganj, Kaimur, Khagaria, Gaya, Gopalganj, Jamui, Jehanabad, Nawada, West Champaran, Purnia, East Champaran, Buxar, Banka, Begusarai, Bhagalpur, Bhojpur, Madhubani, Madhepura, Munger, Rohtas, Lakhisarai, Vaishali, Sheohar, Sheikhpura, Samastipur, Saharsa, Saran, Sitamarhi, Siwan, Supaul,Gujarat, Ahmedabad, Vadodara, Surat, Rajkot, Vadodara, Junagadh, Anand, Jamnagar, Gir Somnath, Mehsana, Kutch, Sabarkantha, Amreli, Kheda, Rajkot, Bhavnagar, Aravalli, Dahod, Banaskantha, Gandhinagar, Bhavnagar, Jamnagar, Valsad, Bharuch , Mahisagar, Patan, Gandhinagar, Navsari, Porbandar, Narmada, Surendranagar, Chhota Udaipur, Tapi, Morbi, Botad, Dang, Rajasthan, Jaipur, Alwar, Udaipur, Kota, Jodhpur, Jaisalmer, Sikar, Jhunjhunu, Sri Ganganagar, Barmer, Hanumangarh, Ajmer, Pali, Bharatpur, Bikaner, Churu, Chittorgarh, Rajsamand, Nagaur, Bhilwara, Tonk, Dausa, Dungarpur, Jhalawar, Banswara, Pratapgarh, Sirohi, Bundi, Baran, Sawai Madhopur, Karauli, Dholpur, Jalore,Haryana, Gurugram, Faridabad, Sonipat, Hisar, Ambala, Karnal, Panipat, Rohtak, Rewari, Panchkula, Kurukshetra, Yamunanagar, Sirsa, Mahendragarh, Bhiwani, Jhajjar, Palwal, Fatehabad, Kaithal, Jind, Nuh, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, #बिहार, #मुजफ्फरपुर, #पूर्वी चंपारण, #कानपुर, #दरभंगा, #समस्तीपुर, #नालंदा, #पटना, #मुजफ्फरपुर, #जहानाबाद, #पटना, #नालंदा, #अररिया, #अरवल, #औरंगाबाद, #कटिहार, #किशनगंज, #कैमूर, #खगड़िया, #गया, #गोपालगंज, #जमुई, #जहानाबाद, #नवादा, #पश्चिम चंपारण, #पूर्णिया, #पूर्वी चंपारण, #बक्सर, #बांका, #बेगूसराय, #भागलपुर, #भोजपुर, #मधुबनी, #मधेपुरा, #मुंगेर, #रोहतास, #लखीसराय, #वैशाली, #शिवहर, #शेखपुरा, #समस्तीपुर, #सहरसा, #सारण #सीतामढ़ी, #सीवान, #सुपौल,

Post a Comment

0 Comments