//]]>
---Third party advertisement---

Jio Petrol Pump की ऐसे लें एजेंसी, करें मोटी कमाई

 

नई दिल्ली। रिलायंस ने अपने पेट्रोल पंप का कारोबार भी जियो के नाम शुरू कर दिया है। अब नए पेट्रोल पंप जियो के नाम से ही खोले ही जाएंगे। अगर आप चाहें तो नए साल पर रिलायंस जियो पेट्रोल पंप की एजेंसी मोटी कमाई शुरू कर सकते हैं। रिलायंस ने ब्रिटेन की कंपनी ब्रिटिश पेट्रोलियम (बीपी) के साथ मिलकर फ्यूल रिटेल वेंचर में 1 अरब डॉलर का निवेश कर 49 फीसदी हिस्सेदारी हासिल की है। 

अब यह कंपनी जियो-बीपी ब्रांड के नाम से काम करेगी। इसके बाद रिलायंस के पेट्रोल पंप का नाम बदलकर जियो-बीपी किया जाएगा। इसके बाद अब पेट्रोल पंप का कारोबार इसी नाम से होगा। कंपनी कुछ ही साल में करीब 3500 पेट्रोल पंप खोलने की योजना पर काम कर रही है। अगर आप पेट्रोल पंप खोलना चाहते हैं, तो नए साल पर आपके पास मौका है। ऐसे में आइये जानते हैं कि जियो पेट्रोल पंप खोलन के लिए कैसे आवेदन करना होगा और पेट्रोल पंप खुलने के बाद कितनी कमाई होगी।

जियो-बीपी पेट्रोल पंप के लिए आवेदन करने का तरीका एकदम आसान है। रिलायंस पेट्रोलियम ने अपनी वेबसाइट पर इस बारे में पूरी जानकारी उपलब्ध कराई है। नीचे दिए लिंक पर क्लिक कर आप पूरी जानकारी और फार्म प्राप्त कर सकते हैं।

अगर आपको लगता है कि पेट्रोल पंप खोलना महंगा काम है, तो कंपनी अन्य तरीके से भी कमाई का मौका देती है। रिलायंस पेट्रोलिमय पेट्रोल पंप के अलावा अन्‍य तरीके से जुड़ने का मौका दे रही है। इसके तहत लुब्रीकेंट्स, ट्रांस कनेक्‍ट फ्रैंचाइजी, ए1 प्‍लाजा फ्रैंचाइजी, एविएशन फ्यूल से लेकर अन्‍य तरीके से कमाई का मौका देती है। इन कामों की फ्रैंचाइजी का विवरण बेवसाइट पर दिया गया है, अगर आप इच्छुक हैं तो ऊपर दिए लिंक को क्लिक कर पूरी जानकारी ले सकते हैं।

पेट्रोल पंप पर पेट्रोल बेचने पर प्रति लीटर 2 से 3 रुपये तक बचता है। ऐसे में अगर प्रतिदिन 5000 लीटर पेट्रोल बेचते हैं, तो औसतन 10,000 रुपये तक रोज की कमाई हो सकती है। यह कमाई महीने में करीब 3 लाख रुपये की होगी। वहीं डीजल बचने से अगर प्रति लीटर 2 रुपये की भी कमाई हो जाए, तो रोज 5 हजार लीटर डीजल बेच कर करीब 10 हजार रुपये कमाया जा सकता है। ऐसे में पेट्रोल पंप खोल कर रोज अच्छी कमाई हो सकती है।

रिलायंस और बीपी मिलकर देश में पेट्रोल पंप का जाल बिछाएंगे। कंपनी की तरफ से दी जानकारी के अनुसार अगले 5 साल में पेट्रोल पंप की संख्या को बढ़ाकर 5500 करने की योजना है। कपंनी के अभी देश में 1400 पेट्रोल पंप हैं। इस प्रकार करीब 4100 नए पेट्रोल पंप खोले जाएंगे। इन पेट्रोल पंप के खुलने पर करीब 80,000 हजार लोगों को नौकरी का मौका भी मिलेगा। हालांकि अभी देश में पेट्रोल पंप के क्षेत्र में सरकारी तेल कंपनियों का बोलबाला है। अभी देश में करीब 69,392 पेट्रोल पंपों हैं। इनमें से सरकारी कंपनियों में इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन, बीपीसीएल और एचपीसीएल के पास करीब 62,072 पेट्रोल पंप हैं। इसी तरह इन 3 कंपनियों के पास देश के 256 विमानन ईंधन स्टेशनों में से 224 हैं। उम्मीद है कि इस नई कंपनी के बनने के बाद देश में पेट्रोल पंप की संख्या तेजी से बढ़ेगी।

पेट्रोल पंप खोलने का लाइसेंस चाहने वाले व्यक्ति की उम्र 21 से 60 वर्ष के बीच होनी चाहिए। इसके अलावा उसके पास दसवीं पास का प्रमाणपत्र भी होना चाहिए। अगर आप यह शर्त पूरी करते हैं तो जानें महत्वपूर्ण बातें।

-जमीन स्टेट हाईवे या नेशनल हाईवे पर है, तो आपको पेट्रोल पम्‍प खोलने के लिए 1200 वर्ग मीटर से लेकर 1600 वर्ग मीटर जमीन होना चाहिए।-नगरीय क्षेत्र या शहर में पेट्रोल पंप खोलना चाहते हैं, तो आपके कम से कम 800 वर्ग मीटर जमीन होना चाहिए।-पेट्रोल पंप खोलना चाहते है तो 30 लाख रुपये तक निवेश करना पड़ सकता है।-जिस जमीन पर पेट्रोल पंप खोलना चाहते हैं, उसके कागज पूरी तरह से साफ सही होने चाहिए।-जिस जमीन पर पेट्रोल पंप खोलना चाहते हैं, वह जमीन कृषि भूमि है, तो आपको उसको गैर कृषि भूमि करवाना होगा।-यदि जमीन खुद की नहीं है, तो जमीन के मालिक से अनापत्ति प्रमाण पत्र लेना होगा।-जमीन में पानी और बिजली का कनेक्शन होना चाहिए।-यदि जमीन लीज पर ली है, तो आपके पास लीज एग्रीमेंट होना चाहिए।-यदि जमीन खरीदी है, तो आपके पास रजिस्टर्ड सेल डीड होना चाहिए।

जियो-बीपी पेट्रोल पंप खोलना चाहते हैं तो आपको कुछ जानकारियों कंपनी को बतानी पड़ेंगी। जैसे नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल के अलावा राज्‍य और शहर का नाम। इसके अलावा अगर आप कोई कारोबर करते हैं, तो उसकी जानकारी भी देनी होगी। इस जानकारी के साथ आवेदन करने के बाद जियो-बीपी कंपनी आपकी दी जानकारी की सत्यता का पता लागने के लिए आपके पास आएगी। इस दौरान आपकी बताई जमीन का निरीक्षण किया जाएगा। इस निरीक्षण के बाद आप की जमीन अगर कंपनी को सही पाई जाती है तो 1 महीने के अंदर ही पेट्रोल पंप डीलरशिप का ऑफर मिल सकता है।

पेट्रोल पंप खोलने या उसका विस्‍तार करने के लिए बैंकों से कर्ज लिया जा सकता है। पेट्रोल पंप पर आजकल रेस्तरां जैसी सुविधाएं भी मिलने लगी हैं। इस तरह के काम के लिए लोन लिया जा सकता है। पेट्रोल पंप शुरू करने में जो खर्च आता है, वो उस क्षेत्र पर निर्भर होता है। यदि शहरी क्षेत्र में पेट्रोल पंप खोलना है तो खर्च उसी हिसाब से होगा, वहीं महानगर में खोलना चाहते हैं तो खर्च उसके हिसाब से होगा। इन्हे भी जरूर पढ़ें
  • 8 साल बने रहे पति-पत्नी, पोस्टमार्टम में उतारे कपडे तो उडे डाक्टर के होश, दिखा कुछ ऐसा
  • Punjab, Ludhiana, Jalandhar, Amritsar, Patiala, Sangrur, Gurdaspur, Pathankot, Hoshiarpur, Tarn Taran, Firozpur, Fatehgarh Sahib, Faridkot, Moga, Bathinda, Rupnagar, Kapurthala, Badnala, Ambala,Uttar Pradesh, Agra, Bareilly, Banaras, Kashi, Lucknow, Moradabad, Kanpur, Varanasi, Gorakhpur, Bihar, Muzaffarpur, East Champaran, Kanpur, Darbhanga, Samastipur, Nalanda, Patna, Muzaffarpur, Jehanabad, Patna, Nalanda, Araria, Arwal, Aurangabad, Katihar, Kishanganj, Kaimur, Khagaria, Gaya, Gopalganj, Jamui, Jehanabad, Nawada, West Champaran, Purnia, East Champaran, Buxar, Banka, Begusarai, Bhagalpur, Bhojpur, Madhubani, Madhepura, Munger, Rohtas, Lakhisarai, Vaishali, Sheohar, Sheikhpura, Samastipur, Saharsa, Saran, Sitamarhi, Siwan, Supaul,Gujarat, Ahmedabad, Vadodara, Surat, Rajkot, Vadodara, Junagadh, Anand, Jamnagar, Gir Somnath, Mehsana, Kutch, Sabarkantha, Amreli, Kheda, Rajkot, Bhavnagar, Aravalli, Dahod, Banaskantha, Gandhinagar, Bhavnagar, Jamnagar, Valsad, Bharuch , Mahisagar, Patan, Gandhinagar, Navsari, Porbandar, Narmada, Surendranagar, Chhota Udaipur, Tapi, Morbi, Botad, Dang, Rajasthan, Jaipur, Alwar, Udaipur, Kota, Jodhpur, Jaisalmer, Sikar, Jhunjhunu, Sri Ganganagar, Barmer, Hanumangarh, Ajmer, Pali, Bharatpur, Bikaner, Churu, Chittorgarh, Rajsamand, Nagaur, Bhilwara, Tonk, Dausa, Dungarpur, Jhalawar, Banswara, Pratapgarh, Sirohi, Bundi, Baran, Sawai Madhopur, Karauli, Dholpur, Jalore,Haryana, Gurugram, Faridabad, Sonipat, Hisar, Ambala, Karnal, Panipat, Rohtak, Rewari, Panchkula, Kurukshetra, Yamunanagar, Sirsa, Mahendragarh, Bhiwani, Jhajjar, Palwal, Fatehabad, Kaithal, Jind, Nuh, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, #बिहार, #मुजफ्फरपुर, #पूर्वी चंपारण, #कानपुर, #दरभंगा, #समस्तीपुर, #नालंदा, #पटना, #मुजफ्फरपुर, #जहानाबाद, #पटना, #नालंदा, #अररिया, #अरवल, #औरंगाबाद, #कटिहार, #किशनगंज, #कैमूर, #खगड़िया, #गया, #गोपालगंज, #जमुई, #जहानाबाद, #नवादा, #पश्चिम चंपारण, #पूर्णिया, #पूर्वी चंपारण, #बक्सर, #बांका, #बेगूसराय, #भागलपुर, #भोजपुर, #मधुबनी, #मधेपुरा, #मुंगेर, #रोहतास, #लखीसराय, #वैशाली, #शिवहर, #शेखपुरा, #समस्तीपुर, #सहरसा, #सारण #सीतामढ़ी, #सीवान, #सुपौल,


Post a Comment

0 Comments