//]]>
---Third party advertisement---

गुटका छुड़ाने के लिए बेस्ट है ये चीज, यकीन न हो तो आजमा कर देखें

 

कहा जाता है की इन्सान को किसी चीज़ की आदत हो जाती है तो उससे छुटकारा पाना बहुत मुश्किल हो जाता है। आदत धीरे धीरे लत बन जाती है और लत बहुत बुरी चीज है… यह तो हम सभी जानते हैं। लत हमें तो नुकसान पहुंचाती है ही साथ-साथ परिवार और करीबियों को भी दुखों और परेशानियों के भंवर में खींच लेती हैै। शायद यही वजह है कि प्रधानमंत्री मोदी ने भी हाल में ‘ड्रग्स-फ्री इंडिया’ कैंपेन की बात कही।

लत का मतलब है कि जिस चीज की लत है, वह जब तक न मिले, पीड़ित बेचैन और असामान्य रहता है। जब वह चीज उसे मिल जाए तो वह सामान्य लगने लगता है लेकिन असल में अगर हम बात करे तो वह अंदर से बेहद कमजोर और बीमार हो चुका होता है। हमारे देश में धुम्रपान करने की लत दिन प्रति दिन बढ़ती ही जा रही है बड़ों से ज्यादा युवाओं में धुम्रपान की लत फैलती जा रही है जो हमारे समाज पर बहुत ही गहरा असर डाल रहा है ये जानते हुए भी कि गुटका, शराब, सिगरेट हेल्थ के लिए हानिकारक और जानलेवा है.

ये लत ऐसी होती है कि एक बार किसी युवा के लग जाये तो कितनी भो कोशिश की जाये उसके बुजुर्ग होने पर भी नहीं छूटती है|ऐसे लोग गुटका का सेवन करके न केवल अपनी ही जिंदगी खराब करते हैं बल्कि अपने परिवार और बीवी बच्चों को भी परेशान करते हैं कई घरों में पत्नियां गुटका छुड़वाने के लिए कई तरह के उपाय भी करती हैं ताकि उनके पति को गुटका से नफरत हो जायें लेकिन वो अपने उपाय में सफल नहीं हो पाती हैं|

लकिन अब आपको परेशां होने की जरूरत नही है आज हम आपको एक ऐसा तरीका बताने जा रहे हैं जिसके खाते ही धुम्रपान करने वाले व्यक्ति को गुटका से नफरत होने लगेगी| जैसा कि हम जानते ही हैं कि गुटका से कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी हो जाती है जिसके सेवन करने से व्यक्ति की मौत बहुत जल्दी नजदीक आने लगती है| इस लत को छुटाने के लिए कई लोग डॉक्टर से सलाह भी लेते हैं लेकिन आज जो हम आपको घरेलू नुस्खा बताने जा रहे हैं उसके करके देखिये यकीन मानें एक हफ्ते के अंदर ही आपको असर होता दिखाई देने लगेगा| इस उपाय के लिए आपको सिर्फ इन चीजो की जरूरत होगी वो है अजवाइन, सेंधा नमक जो की आपको आसानी से बाज़ार में मिल जाता है|

इन सभी सामग्रियों का मिश्रण बनाकर इसमें दो निंबू का रस मिलाकर तवे पर सेकें बस गुटका छुड़ाने का इलाज तैयार हो गया अब इस मिश्रण को गुटका का सेवन करने वाले व्यक्ति की जेब में रख देना है ताकि जब भी उसे गुटके की तलब लगे तो वो उस मिश्रण को खायेगा क्योंकि ये मिश्रण गुटके का स्वाद देता है लेकिन हानिकारक नहीं होता आपको बता दे की गुटखा बनाने का कारोबार चला रहे 52 साल के विजय तिवारी ने शायद कभी सोचा भी नहीं होगा कि जिस जहर को वह बना रहे हैं खुद भी उसके शिकार हो जाएंगे।

गुटखे की क्वॉलिटी जांच के लिए इसे लगातार चखने की वजह से तिवारी को इसकी लत लग गई और वह कैंसर के शिकार हो गए। अब उन्होंने गुटखे में इस्तेमाल होने वाली खुशबू बनाने के अपने बिजनेस को बंद करने का फैसला कर लिया है। वो बताते हैं, ‘एक किलो केसर की कीमत 1.6 लाख रुपये है, लेकिन इसकी जगह जिस केमिकल फ्लेवर का इस्तेमाल किया जा सकता है, उसकी कीमत महज 2300 रुपये प्रति किलोग्राम है।

असली और नकली चीजों के दाम में इतना बड़ा अंतर होता है, इसलिए कोई भी गुटखा मैन्यूफैक्चरिंग कंपनी असल खुशबू का इस्तेमाल नहीं करती है। इसके अलावा इस मिश्रण से खाने वाले व्यक्ति का खून भी साफ होता है और धीरे-धीरे कर वो गुटके का स्वाद भूल जाता है हालांकि खाने वाले व्यक्ति को गुटका और इस घरेलू मिश्रण में अंतर जरूर समझ में आयेगा लेकिन अगर होशियारी से ये काम किया जाये तो बहुत जल्दी व्यक्ति का गुटका छूट सकता है. 

    Punjab, Ludhiana, Jalandhar, Amritsar, Patiala, Sangrur, Gurdaspur, Pathankot, Hoshiarpur, Tarn Taran, Firozpur, Fatehgarh Sahib, Faridkot, Moga, Bathinda, Rupnagar, Kapurthala, Badnala, Ambala,Uttar Pradesh, Agra, Bareilly, Banaras, Kashi, Lucknow, Moradabad, Kanpur, Varanasi, Gorakhpur, Bihar, Muzaffarpur, East Champaran, Kanpur, Darbhanga, Samastipur, Nalanda, Patna, Muzaffarpur, Jehanabad, Patna, Nalanda, Araria, Arwal, Aurangabad, Katihar, Kishanganj, Kaimur, Khagaria, Gaya, Gopalganj, Jamui, Jehanabad, Nawada, West Champaran, Purnia, East Champaran, Buxar, Banka, Begusarai, Bhagalpur, Bhojpur, Madhubani, Madhepura, Munger, Rohtas, Lakhisarai, Vaishali, Sheohar, Sheikhpura, Samastipur, Saharsa, Saran, Sitamarhi, Siwan, Supaul,Gujarat, Ahmedabad, Vadodara, Surat, Rajkot, Vadodara, Junagadh, Anand, Jamnagar, Gir Somnath, Mehsana, Kutch, Sabarkantha, Amreli, Kheda, Rajkot, Bhavnagar, Aravalli, Dahod, Banaskantha, Gandhinagar, Bhavnagar, Jamnagar, Valsad, Bharuch , Mahisagar, Patan, Gandhinagar, Navsari, Porbandar, Narmada, Surendranagar, Chhota Udaipur, Tapi, Morbi, Botad, Dang, Rajasthan, Jaipur, Alwar, Udaipur, Kota, Jodhpur, Jaisalmer, Sikar, Jhunjhunu, Sri Ganganagar, Barmer, Hanumangarh, Ajmer, Pali, Bharatpur, Bikaner, Churu, Chittorgarh, Rajsamand, Nagaur, Bhilwara, Tonk, Dausa, Dungarpur, Jhalawar, Banswara, Pratapgarh, Sirohi, Bundi, Baran, Sawai Madhopur, Karauli, Dholpur, Jalore,Haryana, Gurugram, Faridabad, Sonipat, Hisar, Ambala, Karnal, Panipat, Rohtak, Rewari, Panchkula, Kurukshetra, Yamunanagar, Sirsa, Mahendragarh, Bhiwani, Jhajjar, Palwal, Fatehabad, Kaithal, Jind, Nuh, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, Latest News #बिहार, #मुजफ्फरपुर, #पूर्वी चंपारण, #कानपुर, #दरभंगा, #समस्तीपुर, #नालंदा, #पटना, #मुजफ्फरपुर, #जहानाबाद, #पटना, #नालंदा, #अररिया, #अरवल, #औरंगाबाद, #कटिहार, #किशनगंज, #कैमूर, #खगड़िया, #गया, #गोपालगंज, #जमुई, #जहानाबाद, #नवादा, #पश्चिम चंपारण, #पूर्णिया, #पूर्वी चंपारण, #बक्सर, #बांका, #बेगूसराय, #भागलपुर, #भोजपुर, #मधुबनी, #मधेपुरा, #मुंगेर, #रोहतास, #लखीसराय, #वैशाली, #शिवहर, #शेखपुरा, #समस्तीपुर, #सहरसा, #सारण #सीतामढ़ी, #सीवान, #सुपौल, #Latest News

Post a Comment

0 Comments