//]]>
---Third party advertisement---

पटना के गांव साल के अंत तक सोलर लाइट से होंगे जगमग

 



इस साल के अंत तक गांवों की गलियां सोलर लाइट से जगमगाने लगेगी। पंचायत चुनाव समाप्त होते ही गांवों में सोलर स्ट्रीट लाइट लगाने की योजना को साकार किया जाएगा। इस योजना पर अमल करने के लिए एजेंसियों का चयन होने लगा है। पहले चरण में सोलर लाइट उत्पादक कंपनियों का चयन किया गया है। अब उन एजेंसियों का चयन किया जा रहा है, जो गांवों में जाकर सोलर स्ट्रीट लगाएंगी। एजेंसियों का चयन ब्रेडा (बिहार रिन्यूअबल इनर्जी डेवलपमेंट एजेंसी) के माध्यम से हो रहा है।


सोलर लाइट लगाने के लिए एजेंसियों का चयन दो स्तर पर हो रहा है। पहली एजेंसी वह होगी जो सोलर स्ट्रीट लाइट से संबंधित उपकरणों का निर्माण करती है। मसलन, सोलर प्लेट बनाने से लेकर बैट्री बनाने सहित इससे संबंधित अन्य उपकरण बनाने वाली कंपनियों का चयन किया गया है। दूसरी एजेंसी वह होगी, जो गांवों में जाकर केवल सोलर लाइट लगाएगी। अर्थात, ये बनाने वाली कंपनियों से खरीदारी कर गांवों में केवल सोलर लाइट लगाएंगे। दोनों तरह की एजेंसियों की संख्या 100-100 से अधिक होगी। चयनित एजेंसियों को छोटे जिले में एक तो बड़े जिले में दो-तीन को जिम्मेवारी दी जाएगी।

दो एजेंसियों के चयन के पीछे ब्रेडा का उद्देश्य है कि अगर कोई एक एजेंसी ब्लैक लिस्टेड हो भी जाए तो गांवों में सोलर लाइट में आई खराबी को दूर करने में कोई परेशानी न हो। अगर लगाने वाली या बनाने वाली कोई एक एजेंसी के खिलाफ कार्रवाई भी हो तो वैकल्पिक व्यवस्था के तहत अविलंब सोलर लाइट को बदल दिया जाए। अभी तक गांवों में 12 वाट के बल्ब लगाने की योजना पर काम हो रहा है। हालांकि पिछले दिनों पंचायती राज विभाग व ब्रेडा के बीच हुई बैठक में 20 वाट का बल्ब लगाने की योजना पर भी चर्चा हुई। अगर पंचायती राज व ऊर्जा विभाग के बीच सहमति बनी तो संभव है कि 12 वाट के बदले गांवों में 20 वाट का बल्ब भी लगाया जाए।

तीन स्तर की कमेटी होगी

सोलर लाइट लगाने की योजना से लेकर इसके बेहतर रखरखाव के लिए तीन स्तर पर कमेटी काम करेगी। राज्य स्तरीय कमेटी के प्रमुख विकास आयुक्त होंगे। इस कमेटी में पंचायती राज व ऊर्जा विभाग के अधिकारी होंगे। जबकि जिला स्तर पर बनी कमेटी में डीएम प्रमुख होंगे। इसमें बिजली कंपनी, ब्रेडा, पंचायती राज विभाग के अधिकारी सदस्य होंगे। वहीं क्रियान्वयन के स्तर पर पंचायत स्तर पर भी कमेटी काम करेगी। इसके प्रमुख पंचायत सचिव होंगे। पंचायत स्तरीय कमेटी ही प्रमाणित करेगी कि अमुक एजेंसी ने गांवों में सोलर लाइट लगाया है। इसके बाद ही एजेंसी को कुल भुगतान की जाने वाली राशि का 70 फीसदी हिस्सा मिलेगा। बाकी 30 फीसदी राशि पांच साल के लिए रखरखाव मद में 12 किस्तों में भुगतान किया जाएगा।

कोट

सोलर लाइट लगाने की योजना में ब्रेडा तकनीकी सहयोग कर रहा है। इसके लिए नियमानुसार एजेंसियों का चयन हो रहा है। 

Punjab, Ludhiana, Jalandhar, Amritsar, Patiala, Sangrur, Gurdaspur, Pathankot, Hoshiarpur, Tarn Taran, Firozpur, Fatehgarh Sahib, Faridkot, Moga, Bathinda, Rupnagar, Kapurthala, Badnala, Ambala,Uttar Pradesh, Agra, Bareilly, Banaras, Kashi, Lucknow, Moradabad, Kanpur, Varanasi, Gorakhpur, Bihar, Muzaffarpur, East Champaran, Kanpur, Darbhanga, Samastipur, Nalanda, Patna, Muzaffarpur, Jehanabad, Patna, Nalanda, Araria, Arwal, Aurangabad, Katihar, Kishanganj, Kaimur, Khagaria, Gaya, Gopalganj, Jamui, Jehanabad, Nawada, West Champaran, Purnia, East Champaran, Buxar, Banka, Begusarai, Bhagalpur, Bhojpur, Madhubani, Madhepura, Munger, Rohtas, Lakhisarai, Vaishali, Sheohar, Sheikhpura, Samastipur, Saharsa, Saran, Sitamarhi, Siwan, Supaul,Gujarat, Ahmedabad, Vadodara, Surat, Rajkot, Vadodara, Junagadh, Anand, Jamnagar, Gir Somnath, Mehsana, Kutch, Sabarkantha, Amreli, Kheda, Rajkot, Bhavnagar, Aravalli, Dahod, Banaskantha, Gandhinagar, Bhavnagar, Jamnagar, Valsad, Bharuch , Mahisagar, Patan, Gandhinagar, Navsari, Porbandar, Narmada, Surendranagar, Chhota Udaipur, Tapi, Morbi, Botad, Dang, Rajasthan, Jaipur, Alwar, Udaipur, Kota, Jodhpur, Jaisalmer, Sikar, Jhunjhunu, Sri Ganganagar, Barmer, Hanumangarh, Ajmer, Pali, Bharatpur, Bikaner, Churu, Chittorgarh, Rajsamand, Nagaur, Bhilwara, Tonk, Dausa, Dungarpur, Jhalawar, Banswara, Pratapgarh, Sirohi, Bundi, Baran, Sawai Madhopur, Karauli, Dholpur, Jalore,Haryana, Gurugram, Faridabad, Sonipat, Hisar, Ambala, Karnal, Panipat, Rohtak, Rewari, Panchkula, Kurukshetra, Yamunanagar, Sirsa, Mahendragarh, Bhiwani, Jhajjar, Palwal, Fatehabad, Kaithal, Jind, Nuh, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, #बिहार, #मुजफ्फरपुर, #पूर्वी चंपारण, #कानपुर, #दरभंगा, #समस्तीपुर, #नालंदा, #पटना, #मुजफ्फरपुर, #जहानाबाद, #पटना, #नालंदा, #अररिया, #अरवल, #औरंगाबाद, #कटिहार, #किशनगंज, #कैमूर, #खगड़िया, #गया, #गोपालगंज, #जमुई, #जहानाबाद, #नवादा, #पश्चिम चंपारण, #पूर्णिया, #पूर्वी चंपारण, #बक्सर, #बांका, #बेगूसराय, #भागलपुर, #भोजपुर, #मधुबनी, #मधेपुरा, #मुंगेर, #रोहतास, #लखीसराय, #वैशाली, #शिवहर, #शेखपुरा, #समस्तीपुर, #सहरसा, #सारण #सीतामढ़ी, #सीवान, #सुपौल,

Post a Comment

0 Comments