//]]>
---Third party advertisement---

आने वाले समय में गंगा नदी पर हर 40 किलोमीटर के बाद होगा पुल, जानिए क्या है योजना

 


बिहार में गंगा नदी पर हर 40 वें किलोमीटर पर एक पुल बनाने की योजना है. पहले बिहार में 10 लेन के सिर्फ 4 पुल थे. अब सरकार गंगा नदी पर 62 लेन के 18 पुलों का निर्माण कार्य करा रही है. अगले 100 सालों तक ट्रैफिक प्लान के मद्देनजर गांधी सेतु के ठीक बगल में चार लेन के नए पुल का निर्माण कार्य जारी है, जिसे वर्ष 2024 तक पूरा करना है. गांधी सेतु के समानांतर बन रहे गंगा ब्रिज के तैयार होने से पटना और से हाजीपुर की कनेक्टिविटी और भी बढ़ जाएगी. सूबे के पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन और विभाग के अपर मुख्य सचिव अमृत लाल मीणा ने गांधी सेतु के सुपर स्ट्रक्चर निर्माण कार्य का स्थल पर जाकर समीक्षा की.


महात्मा गांधी सेतु पर सुपरस्ट्रक्चर बदलने का काम चल रहा है. पश्चिमी लेन का कार्य पूरा हो चुका है और अब पूर्वी लेन का निर्माण कार्य जारी है. सरकार का दावा है कि मार्च 2022 तक इस काम को पूरा कर लिया जाएगा. गांधी सेतु के दोनों लेन के निर्माण कार्य को पूरा होने पर लोगों को जाम की समस्या नहीं झेलनी होगी. उत्तर बिहार से दक्षिण बिहार को जोड़ने वाला महात्मा गांधी सेतु वर्ष 1983 में बनकर तैयार हुआ था, लेकिन पुल के जर्जर हो जाने के बाद इसके पुराने स्ट्रक्चर को तोड़कर स्टील से नया सुपर स्ट्रक्चर बनाया जा रहा है. फिलहाल पश्चिमी लेन का काम पूरा हो चुका है और पूर्वी लेन का काम जारी है.

गांधी सेतु के सुपर स्ट्रक्चर निर्माण कार्य की समीक्षा करने पहुंचे पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने दावा किया है कि समय से गांधी सेतु के दोनों लेन का निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा. साथ ही उन्होंने बताया कि मोटरसाइकिल और साइकिल से यात्रा करने वाले लोगों के लिए पुल पर अलग से व्यवस्था की जा रही है. पुल के स्पेन में केबलिंग की भी व्यवस्था की गई है जिसके द्वारा किसी भी तरीके का पाइप लाइन बिछाया जा सकता है.

18 नए पुलों का निर्माण

महात्मा गांधी सेतु के पुराने स्ट्रक्चर को बदल कर नया स्टील का सुपरस्ट्रक्चर बनाने के साथ-साथ बिहार में गंगा नदी पर 18 नए पुलों का निर्माण किया जा रहा है. गांधी सेतु से ठीक बगल में सिक्स लेन ब्रिज बनाया जा है. गांधी सेतु के 10 किलोमीटर डाउनस्ट्रीम में कच्ची दरगाह बिदुपुर पुल का निर्माण कराया जा रहा है. जेपी सेतु के समानांतर नए पुल बनने का प्रस्ताव है और उसी के 10 किलोमीटर पश्चिम दिघवारा में सिक्स लेन पुल बनाया जाना है. बख्तियारपुर से ताजपुर फोरलेन पुल का निर्माण कार्य जारी है. राजेंद्र सेतु के समानांतर सिक्स लेन ब्रिज बनाया जा रहा है.

मुंगेर घाट पुल का दिसंबर महीने में अप्रोच रोड पूरा हो जाएगा. अगवानी घाट से सुल्तानगंज फोरलेन ब्रिज का निर्माण कार्य जारी है. विक्रमशिला सेतु के समानांतर फोरलेन पुल बनाया जा रहा है. मनिहारी से साहेबगंज भी नया फोरलेन पुल का निर्माण कार्य शुरू हो चुका है. पथ निर्माण विभाग के अपर मुख्य सचिव अमृत लाल मीणा का कहना है कि बिहार में पहले गंगा नदी पर हर 40 किलोमीटर पर एक पुल होगा. पहले बिहार में 10 लेन के सिर्फ 4 पुल थे और आज 62 लेन के 18 नए पुलों का निर्माण कार्य जारी है. Punjab, Ludhiana, Jalandhar, Amritsar, Patiala, Sangrur, Gurdaspur, Pathankot, Hoshiarpur, Tarn Taran, Firozpur, Fatehgarh Sahib, Faridkot, Moga, Bathinda, Rupnagar, Kapurthala, Badnala, Ambala,Uttar Pradesh, Agra, Bareilly, Banaras, Kashi, Lucknow, Moradabad, Kanpur, Varanasi, Gorakhpur, Bihar, Muzaffarpur, East Champaran, Kanpur, Darbhanga, Samastipur, Nalanda, Patna, Muzaffarpur, Jehanabad, Patna, Nalanda, Araria, Arwal, Aurangabad, Katihar, Kishanganj, Kaimur, Khagaria, Gaya, Gopalganj, Jamui, Jehanabad, Nawada, West Champaran, Purnia, East Champaran, Buxar, Banka, Begusarai, Bhagalpur, Bhojpur, Madhubani, Madhepura, Munger, Rohtas, Lakhisarai, Vaishali, Sheohar, Sheikhpura, Samastipur, Saharsa, Saran, Sitamarhi, Siwan, Supaul,Gujarat, Ahmedabad, Vadodara, Surat, Rajkot, Vadodara, Junagadh, Anand, Jamnagar, Gir Somnath, Mehsana, Kutch, Sabarkantha, Amreli, Kheda, Rajkot, Bhavnagar, Aravalli, Dahod, Banaskantha, Gandhinagar, Bhavnagar, Jamnagar, Valsad, Bharuch , Mahisagar, Patan, Gandhinagar, Navsari, Porbandar, Narmada, Surendranagar, Chhota Udaipur, Tapi, Morbi, Botad, Dang, Rajasthan, Jaipur, Alwar, Udaipur, Kota, Jodhpur, Jaisalmer, Sikar, Jhunjhunu, Sri Ganganagar, Barmer, Hanumangarh, Ajmer, Pali, Bharatpur, Bikaner, Churu, Chittorgarh, Rajsamand, Nagaur, Bhilwara, Tonk, Dausa, Dungarpur, Jhalawar, Banswara, Pratapgarh, Sirohi, Bundi, Baran, Sawai Madhopur, Karauli, Dholpur, Jalore,Haryana, Gurugram, Faridabad, Sonipat, Hisar, Ambala, Karnal, Panipat, Rohtak, Rewari, Panchkula, Kurukshetra, Yamunanagar, Sirsa, Mahendragarh, Bhiwani, Jhajjar, Palwal, Fatehabad, Kaithal, Jind, Nuh, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, #बिहार, #मुजफ्फरपुर, #पूर्वी चंपारण, #कानपुर, #दरभंगा, #समस्तीपुर, #नालंदा, #पटना, #मुजफ्फरपुर, #जहानाबाद, #पटना, #नालंदा, #अररिया, #अरवल, #औरंगाबाद, #कटिहार, #किशनगंज, #कैमूर, #खगड़िया, #गया, #गोपालगंज, #जमुई, #जहानाबाद, #नवादा, #पश्चिम चंपारण, #पूर्णिया, #पूर्वी चंपारण, #बक्सर, #बांका, #बेगूसराय, #भागलपुर, #भोजपुर, #मधुबनी, #मधेपुरा, #मुंगेर, #रोहतास, #लखीसराय, #वैशाली, #शिवहर, #शेखपुरा, #समस्तीपुर, #सहरसा, #सारण #सीतामढ़ी, #सीवान, #सुपौल,

Post a Comment

0 Comments