//]]>
---Third party advertisement---

बिहार में पारिवारिक संपत्ति बंटवारा के ये हैं नियम कानून..

 

 न्यूज डेस्क: ताजा रिपोर्ट के मुताबिक बिहार सरकार ने पैतृक जमीन के बंटवारे में सुविधा के लिए कानून बनाया हैं। लेकिन इसके बारे में सभी लोगों को पूरी जानकारी नहीं हैं। जिसके कारण लोगों को कई तरह की परेशानियों का भी सामना करना पड़ता हैं। आज इसी विषय में जानने की कोशिश करेंगे विस्तार से ताकि सभी लोगों को पारिवारिक संपत्ति बंटवारा के नियम कानून की जानकारी हो सके।

बिहार में पारिवारिक संपत्ति बंटवारा के ये हैं नियम कानून।

1 .बिहार सरकार ने पारिवारिक संपत्ति बंटवारा के बाद जमीन की रजिस्ट्री को लेकर नियम कानून बनाये हैं ताकि लोग बंटवारे के बाद अलग-अलग नाम से जमीन की रजिस्ट्री करा सकें।

2 .बता दें की पारिवारिक संपत्ति बंटवारा के बाद जमीन की रजिस्ट्री करीब-करीब फ्री होती हैं। इसके लिए मात्र 100 रुपये लगते हैं। इससे भविष्य में लड़ाई-झगड़े की नौबत नहीं आती हैं और सभी भाईयों के नाम जमीन अलग-अलग हो जाता हैं।

3 .बता दें की बिहार में दादा की मृत्यु और पिता के जीवित होते हुए दोनों के नाम पर अगर खतियानी या खरीदगी जमीन को पारिवारिक बंटवारा मान कोई रजिस्ट्री करानी चाहे तो यह संभव नहीं हो सकता है।

4 .मिली जानकारी के अनुसार पिता के नाम संपत्ति को कोई पुत्र अगर अपने नाम कराना चाहता है तब उसे गिफ्ट या सेल करना होगा।

5 .वहीं कानून के मुताबिक सिर्फ दादा के ही नाम की ही संपत्ति पारिवारिक बंटवारा की श्रेणी में आएगा। इसकी रजिस्ट्री आप 100 रुपये में करा सकेंगे। 

Post a Comment

0 Comments