//]]>
---Third party advertisement---

एक साथ जलीं पिता-पुत्र की चिताएं, बच्चे के शव को दफनाया



चम्बा जिला के भलेई-घटगला मार्ग पर हुए कार हादसे में एक ही परिवार के 3 सदस्यों की मौत ने हर किसी को झकझोर कर रख दिया है, वहीं एक साथ दादा-पोते व बेटे की मौत के बाद पूरे क्षेत्र में मातम छाया हुआ है। मंगलवार को जहां बाप-बेटे का अंतिम संस्कार कर दिया गया, वहीं पोते को मिट्टी के सुपुर्द कर दिया गया। अब विपन कुमार के घर में उसकी बूढ़ी दादी, मां, पत्नी व नन्ही बेटी बची हैं। उनकी पूरी दुनिया उजड़ गई है और बेसहारा हो गए हैं।पूरे परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है। जीवन का सहारा पूरी तरह से छिन चुका है।


करवाल पंचायत के लग गांव का विपन कुमार जब हडला से घर को लौट रहा था तो उसे क्या पता था कि आगे उसकी मौत खड़ी है। अचानक नलेड नाले के पास उसकी कार अनियंत्रित होकर सड़क से नीचे जा गिरी और उसके पिता घिसो राम व बेटे लक्ष्य कुमार की मौके पर ही मृत्यु हो गई। विपन कुमार मैडीकल कालेज चम्बा में जिंदगी व मौत के बीच झूलता रहा, लेकिन गहरे घावों का ताव न सहते हुए उसने भी कुछ घंटों के बाद दम तोड़ दिया। तीनों का एक साथ अंतिम संस्कार करना पड़ा। इस दर्दनाक हादसे के बाद विपन की पत्नी, माता व दादी का रो-रोकर बुरा हाल है।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार घिसो राम जल शक्ति विभाग में कार्यरत था, जिसकी ड्यूटी समा सैक्शन में थी। विपन कुमार एक कंपनी में वैब डिजाइनर की नौकरी करता था। वह अपनी बहन को छोडऩे के लिए हडला गांव गया हुआ था। वापस आते समय उसके पिता भी उसके साथ गाड़ी में घर के लिए रवाना हुए थे लेकिन नलेड़ नाले के पास कार पर नियंत्रण खोने से सभी भगवान को प्यारे हो गए। उनके परिवार का जीने का सहारा पूरी तरह से छिन चुका है। लोगों का कहना है कि घिसो राम का पूरा परिवार काफी मिलनसार है।


Post a comment

0 Comments