//]]>
---Third party advertisement---

पहला चरण… महिलाओं में गजब का जोश




ग्रामीण संसद के चुनावों पहले चरण को लेकर जिला की 114 पंचायतों में मतदान को लेकर लोगों विशेषकर महिलाओं में खासा उत्साह देखने को मिला। रविवार को दिन चढ़ते ही लोग घरों से बाहर निकलकर मताधिकार प्रयोग करने के लिए पोलिंग स्टेशन पहुंचे। इस दौरान जिला के कई पोलिंग स्टेशन पर लोग कतारों में खड़े होकर मताधिकार के लिए अपनी बारी का इंतजार करते दिखे। पोलिंग स्टेशन पर मतदाताओं ने कोरोना महामारी से बचाव को लेकर जारी गाइडलाइन की पालना करते हुए अपने मताधिकार का प्रयोग किया। चंबा जिला में पहले चरण की मतदान प्रक्रिया शांतिपूर्ण तरीके से निपटाई गई।

रविवार सवेरे पहले चरण के पंचायत चुनावों में मताधिकार का प्रयोग करने के लिए लोगों के पोलिंग स्टेशन पहुंचने का सिलसिला आरंभ हो गया। पहले दो घंटों के दौरान मतदाताओं की पोलिंग स्टेशन पर पहुंचने की रफतार काफी थमी रही। मगर ग्यारह बजे के बाद पोलिंग स्टेशन पर लोगों की भारी भीड देखने को मिली, जोकि मतदान समाप्त होने तक जारी रही। मतदाताओं के चलते कई पंचायतों में शाम चार बजे के बाद भी मतदान जारी रहा। मतदान प्रक्त्रिया के दौरान उपमंडलीय प्रशासन व पुलिस टीमों ने कई पोलिंग स्टेशन का दौरा कर व्यवस्थाओं का जायजा भी लिया। बताते चलें कि रविवार को पंचायत चुनाव के पहले चरण में चंबा जिला की 114 पंचायतों में मतदान हुआ है। इनमें चंबा व सलूणी की पंद्रह- पंद्रह, मैहला व भरमौर की सोलह- सोलह, तीसा की अठारह, भटियात की चौबीस और पांगी की दस पंचायतें

शामिल हैं। उधर, जिला प्रशासन की ओर से भी पोलिंग स्टेशन पर कोरोना से बचाव लेकर पुख्ता बंदोबस्त किए गए थे। मतदाताओं को थर्मल स्कैनिंग और हैंड सैनिटाइज करवाने के बाद ही पोलिंग स्टेशन में एंट्री दी गई। बहरहाल, जिला चंबा में पंचायत चुनावों के पहले चरण में लोगों ने अपनी बढ़-चढ़कर हिस्सा लेते हुए मतदान कर अपने लोकतांत्रिक अधिकार का प्रयोग कर कई उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला किया।

Post a comment

0 Comments