//]]>
---Third party advertisement---

तेल से लदे टैंकर में लगी आग, यूं पाया आग पर काबू - Una News

जिला मुख्यालय के नजदीक पेखूबेला स्थित इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन के टर्मिनल के बाहर मॉक ड्रिल का आयोजन किया गया। मॉक ड्रिल के दौरान टर्मिनल के मेन गेट पर खड़े और पेट्रोल से लदे एक टैंकर में आग लग गई। आग पर काबू पाने के लिए पहले टर्मिनल क्षेत्र आपदा प्रबंधन की टीम ने प्रयास शुरू किए वही फायर ब्रिगेड की टीम ने भी मौके पर पहुंच कर आग पर काबू पाया। घटना के दौरान कुछ लोग घायल भी हुए, जिन्हें फौरन स्वास्थ्य विभाग की टीम की मदद से उपचार के लिए अस्पताल पहुंचाया गया। मॉक ड्रिल के दौरान एडीसी ऊना डॉ अमित कुमार शर्मा और एसडीएम ऊना डॉ सुरेश चंद्र जसवाल भी मौजूद रहे। जबकि पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीमें भी प्रोटोकॉल के तहत घटनास्थल पर मौजूद रही।

जिला मुख्यालय के नजदीक गांव पेखूबेला में स्थित इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन के टर्मिनल के बाहर आपदा प्रबंधन के तहत मॉक ड्रिल का आयोजन किया गया। इस दौरान टर्मिनल के मेन गेट पर पेट्रोल से लदे एक टैंकर में आग का दृश्य क्रिएट किया गया। वही टैंकर में लगी आग पर आईओसीएल की आपदा प्रबंधन टीम समेत फायर स्टेशन ऊना की टीम ने काबू पाया। जबकि घटना में घायल हुए लोगों को स्वास्थ्य विभाग की मदद से उपचार के लिए स्वास्थ्य संस्थानों में भेजा गया।

पूरे मॉक ड्रिल के दौरान एडीसी ऊना डॉ अमित कुमार शर्मा और एसडीएम ऊना डॉ सुरेश चंद्र जसवाल भी मौजूद रहे। इस मौके पर एडीसी ऊना डॉ अमित कुमार शर्मा ने कहा कि आपदा के समय किस तरह परिस्थितियों पर काबू पाया जाए इसको लेकर मॉक ड्रिल के जरिए रिहर्सल की गई है जिसमें आईओसीएल की टीम समेत फायर स्टेशन ऊना पुलिस विभाग और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने भी भाग लिया। उन्होंने बताया कि मॉक ड्रिल के तहत सुबह 11ः35 पर टर्मिनल के बाहर खड़े टैंकर में आग लगने की सूचना दी गई जिसके बाद सभी टीमें हरकत में आ गई और राहत और बचाव कार्य शुरू कर दिए गए। उन्होंने कहा कि इस मौके का उद्देश्य किसी भी तरह की आपदा से निपटने के लिए पूर्वाभ्यास करना था। वही आपदा के समय जान और माल की कम से कम हानि हो सके इसको लेकर भी इस मॉक ड्रिल में काम किया गया है।

Post a comment

0 Comments