//]]>
---Third party advertisement---

धुंध की आगोश में समाया ऊना, वाहन चालक परेशान - Una News



जिला ऊना इस समय धुंध की आगोश में है। सुबह इतनी धुंध पड़ रही है कि आगे कुछ दिखाई नहीं दे रहा है। सड़कों पर भी कोहरा ही कोहरा दिखाई दे रहा है। सड़कों से गुजरने वाले वाहनों को धुंध के बीच दिन के समय भी लाइटें जलाकर अपने गंतव्य की तरफ जाना पड़ रहा है। इसमें सबसे अधिक परेशानी दोपहिया वाहन चालकों को हो रही है। एक तो भयंकर सर्दी और ऊपर से कोहरे के कारण कुछ भी दिखाई नहीं देता है। हैल्मेट का शीशा लगाने पर धुंध जमने से आगे कुछ दिखाई नहीं देता है। यदि हैल्मेट का शीशा खोलें तो ठंडी हवा से आंखें बंद होने लगती हैं।

जिला ऊना में इस समय भयंकर सर्दी पड़ रही है। न्यूनतम के साथ-साथ अधिकतम पारा भी निरंतर गिरावट की तरफ अग्रसर हो रहा है। धुंध पडऩे के कारण स्वां नदी के आसपास के क्षेत्रों में तो एक मीटर से आगे भी कुछ दिखाई नहीं देता है। अन्य क्षेत्रों के हालात भी बदतर हो गए हैं। धुंध व ठंडी हवाएं चलने के कारण लोग घरों में दुबके हुए हैं। जब तक धूप न निकले, बाहर निकलने से सभी गुरेज कर रहे हैं। ऐसे मौसम में सबसे अधिक वे लोग परेशान हैं, जो बीमार हैं।

जिला ऊना में रविवार को पड़ी धुंध के चलते सूर्यदेव के दर्शन भी साढ़े 11 बजे के बाद ही नसीब हुए। रविवार होने के कारण अधिकतर लोग घरों से बाहर नहीं निकले। केवल वही लोग सड़कों से वाहन लेकर जा रहे थे, जिन्हें कोई जरूरी कार्य हो। भयंकर सर्दी और धुंध में दोपहिया वाहनों पर जाने से पहले लोग कई बार सोच रहे हैं। यदि जरूरी कार्य के लिए जाना ही है तो फिर जैकेट, हाथों में दस्ताने, टोपी और हैल्मेट पहनकर ही लोग निकल रहे हैं। सर्दी बढ़ने के कारण सुबह और सायं अनेक स्थानों पर लोगों को आग के अलाव जलाकर सर्दी से राहत पाते हुए देखा जा सकता है। ठंड बढ़ने के साथ गर्म वस्त्रों की मांग भी बढ़ रही है।

जिला में धुंध पड़ने व ठंडी हवाएं चलने के कारण अधिकतम पारे में 4 डिग्री सैल्सियस की गिरावट दर्ज की गई है। मौसम विभाग के सहायक अधिकारी विनोद शर्मा के मुताबिक आज ऊना में अधिकतम पारा 19.2 डिग्री सैल्सियस जबकि न्यूनतम पारा 3 डिग्री सैल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। शनिवार को ऊना का अधिकतम पारा 23.2 डिग्री सैल्सियस रिकॉर्ड किया गया था। शनिवार के मुकाबले रविवार को अधिकतम पारे में गिरावट दर्ज की गई है।

Post a comment

0 Comments