//]]>
---Third party advertisement---

करेरी में बर्फ में फंसे सैलानी



धौलाधार की वादियों में बसे धर्मशाला के साथ लगते शाहपुर के प्रसिद्ध ट्रैकिंग पर्यटक स्थल करेरी झील में अचानक हुई बर्फबारी में 70 पर्यटक फंस गए। धौलाधार की पहाडि़यों के ठीक नीचे स्थित करेरी डल झील जो कि गांव से 16 किलोमीटर दूरी पर स्थित हैं, वहां पर समूचे प्रदेश सहित बड़े स्तर पर बर्फबारी हुई।

एकदम से अधिक बर्फबारी होने के बाद सुबह पर्यटक गाइड सहित फंस गए। करेरी लेक में हरियाणा, दिल्ली, चंडीगढ़, यूपी व हिमाचल प्रदेश के पर्यटक फंसे थे। सूचना गांव में पहुंचने और उसके बाद मीडिया व सोशल मीडिया के जरिए प्रशासन व पुलिस के पास पहुंचने पर एकदम हरकत करते हुए दोपहर बाद तक सभी पर्यटकों को सुरक्षित निकालकर मुख्यालय में पहुंचा लिया गया है। 

रविवार शाम हुई बर्फबारी के कारण फंसे सभी पर्यटकों को सुरक्षित निकाल लिया गया है। एसपी कांगड़ा विमुक्त रंजन, एएसपी दिनेश कुमार व पुलिस थाना प्रभारी मकलोडगंज अजीत मौके पर मौजूद रहे। गौर हो कि रविवार को मौसम साफ होने के चलते भारी संख्या में पर्यटक करेरी लेक गए थे। करेरी लेक में हरियाणा, दिल्ली, चंडीगढ़, यूपी व हिमाचल प्रदेश के पर्यटक फंसे थे।

पर्यटक स्थलों में रेस्क्यू की हो उचित व्यवस्था

पहाड़ी क्षेत्र में पर्यटन सहित भेड़पालन सहित अन्य दुर्घटनाएं होने की स्थिति पर रेस्क्यू का सामान व कोई साधन ही उपलब्ध नहीं होते हैं, जिसके कारण पहाड़ी क्षेत्र में कई समस्याओं को सामना करना पड़ता है। पहाड़ी क्षेत्रों में मौसम की बेहरहमी होने के बावजूद लंबे समय तक इंतजार करने के लिए मजबूर होना पड़ता है। ऐसे में स्थानीय बुद्धिजीवियों, लोगों व युवाओं ने सरकार व प्रशासन से आग्रह किया है कि उन्हें आपातकालीन स्थिति के लिए रेस्क्यू सामान मुहैया करवाया जाए । 

करेरी से रवि संव्याल, पवन, काका, अरविंद, अभी कुमार, अतुल, रणजीत, नोहली से विजय, अरविंद व तरसेम सहित अन्य युवाओं ने मिलकर रेस्क्यू टीम बनाई जो सुबह सवा नौ बजे रेस्क्यू के लिए रवाना हो गई। एसपी कांगड़ा विमुक्त रंजन ने बताया कि पर्यटकों के करेरी झील में बर्फबारी की सूचना मिलते ही रेस्क्यू टीम को मौके पर रवाना किया गया। स्थानीय लोगों व टीम की मदद से सभी पर्यटकों को सुरक्षित मुख्यालय में पहुंचा दिया गया है।

Post a comment

0 Comments