//]]>
---Third party advertisement---

मंडी में 4 कोरोना संक्रमितों की मौत, 72 नए पॉजिटिव मामले



नेरचौक मेडिकल कॉलेज में उपचाराधीन 4 कोरोना संक्रमितों की मौत हो गई है। बिलासपुर जिला की झंडूता तहसील के मलारी गांव की 67 वर्षीय महिला 27 नवम्बर से मेडिकल कॉलेज में उपचाराधीन थी। उसकी सोमवार देर रात मौत हो गई, वहीं कुल्लू के नग्गर का रहने वाला 73 वर्षीय व्यक्ति 25 नवम्बर से यहां उपचाराधीन था, जिसकी मंगलवार सुबह साढ़े 5 बजे मौत हो गई। इसके अलावा कुल्लू की रहने वाली 70 वर्षीय एक महिला की कोविड वार्ड में मौत हो गई, वहीं मंडी जिला के धर्मपुर हलके के संधोल के 86 वर्षीय व्यक्ति की मौत हो गई। 

वह देर रात ही कोविड वार्ड में भर्ती हुआ था। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के दिवंगत सचिव वीरेंद्र सूद की कोरोना रिपोर्ट नैगेटिव आई है। उनकी सोमवार देर शाम हृदयाघात से मौत हो गई थी। मुख्य चिकित्सा अधिकारी मंडी डॉ. देवेंद्र शर्मा ने कहा कि मेडिकल कॉलेज में उपचाराधीन 11 संक्रमितों के स्वस्थ होने के बाद उन्हें छुट्टी दे दी गई है, वहीं होम आइसोलेशन में 132 संक्रमित कोरोना को मात देने में सफल रहे हैं।

जिलाभर में कोरोना संक्रमण के 72 मामले

महिला थाना भ्यूली के 4 जवानों, आईआईटी मंडी के एक छात्र व मैडीकल कालेज नेरचारैक के 3 कर्मियों समेत जिलाभर में कोरोना संक्रमण के 72 मामले आए हैं। इनमें 38 आरटी-पीसीआर व 34 रैपिड एंटीजन टैस्ट में पॉजिटिव पाए गए हैं। 4 जवानों के पॉजिटिव आने के बाद महिला थाना को 2 दिन के लिए बंद कर दिया गया है। मंडी शहर में कोरोना संक्रमण के कुल 23 मामले आए हैं, जिनमें महिला पुलिस थाना भ्यूली की 2 महिला व 2 पुरुष जवान, आईआईटी मंडी की एक छात्रा व मैडीकल कालेज की 3 नर्सें, सरकाघाट के बलद्वाड़ा में 3, धर्मपुर हलके में 2, बल्ह में 4, जोगिंद्रनगर के गुम्मा में 2, सुंदरनगर उपमंडल की बीबीएमबी कालोनी, डिनक, राकड़ कनैड, चत्तरोखड़ी व पधर के नारला में कोरोना के मामले आए हैं।
सुंदरनगर में बढ़ी परेशानी, बना हुआ है हॉटस्पॉट

सुंदरनगर में एसडीएम, डीएसपी, अधीक्षण अभियंता, विधायक व एसएचओ सहित प्रमुख पदों पर बैठे प्रभावशाली व्यक्तियों के कोरोना संक्रमित आने के बाद अब एक और अधिकारी कोरोना संक्रमित आ गई है। नगर परिषद की कार्यकारी अधिकारी सुंदरनगर पॉजिटिव पाई गई हैं। बता दें कि नगर परिषद सुंदरनगर कार्यालय में 2 कर्मचारी पहले भी कोरोना संक्रमित आ चुके हैं। सुंदरनगर में सबसे ज्यादा परेशानी बनी हुई है क्योंकि यहां गांव को मिलाकर करीब 1000 से अधिक मामले अब तक पॉजिटिव आ चुके हैं। सुंदरनगर कस्बा ही अब हॉटस्पॉट बनता जा रहा है।

Post a comment

0 Comments