---Third party advertisement---

बागवानी और जल शक्ति विभाग में 3 साल में किए काम गिनाएगी सरकार



सूबे के जल शक्ति और बागवानी महकमे ने बीते 20 सालों में क्या-क्या विकास कार्य किए हैं सरकार इसका लेखा-जोखा जल्द सार्वजनिक करेगी। इन दोनों विभागों को देख रहे मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि 2 दशक के दौरान कितने काम किए गए हैं और बीते 3 सालों में जयराम सरकार के कार्यकाल में कितने काम हुए हैं। मंत्री के आदेशों के बाद जल शक्ति और बागवानी महकमे के अधिकारी 20 सालों के दस्तावेज खंगालने में जुट गए हैं।

जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर का दावा है कि घर-घर पानी पहुंचाने की दिशा में उनकी सरकार ने बेहतरीन काम किया है। जल जीवन मिशन के तहत इस काम के लिए हिमाचल को देशभर में अव्वल आंका गया है। राज्य सरकार के प्रयासों से पुरानी पेयजल योजनाओं की मुरम्मत के लिए एडीबी से 700 करोड़ से अधिक का प्रोजैक्ट मंजूर किया गया है। 3200 करोड़ की ब्रिक्स बैंक परियोजना भी जल्द धरातल पर उतार दी जाएगी। जल जीवन मिशन के तहत केंद्र से मिली वित्तीय मदद से हजारों घरों में पेयजल कनैक्शन दे दिए गए हैं।

इसी तरह हिमाचल को बागवानी राज्य बनाने के लिए 6000 करोड़ से अधिक की एच.पी. शिवा परियोजना कार्यान्वित की जा रही है। इसके अंतर्गत मैदानी इलाकों में आम, अनार, संतरा, लीची, पपीता जैसे फलों को उगाने को तरजीह दी जाएगी। इनके लिए सिंचाई की सुविधा जुटाई जाएगी। इसी तरह फूलों की खेती के लिए पुष्प क्रांति योजना शुरू की गई है। महेंद्र सिंह ठाकुर ने बीते 2 दशक के दौरान इस तरह की विभिन्न योजनाओं की जानकारी मांगी है। उनके निर्देशों पर फील्ड से निदेशालय को जानकारी भेजी जा रही है।

महेंद्र सिंह के इन आदेशों पर विभाग ने गंभीरता से काम शुरू कर दिया है। इन दिनों फील्ड कार्यालयों में यही जानकारी जुटाई जा रही है। इसका पुराना रिकॉर्ड देखा जा रहा है जिसका आंकलन भी किया जाएगा। इसकी पूरी रिपोर्ट तैयार करने के बाद महेंद्र सिंह ठाकुर इस पर मुख्यमंत्री से भी चर्चा करेंगे। जयराम सरकार अपने 3 साल पूरे कर चुकी है, ऐसे में बागवानी एवं जल शक्ति मंत्री ने अपने काम गिनाने और जनता के सामने रखने की तैयारी कर ली है।

Post a comment

0 Comments