Kangra/Palampur: दोस्त बनकर महिला से ठगे 48 लाख रुपए, आरोपी गिरफ्तार




मित्र बनकर महिला से लाखों की ठगी करने वाला आखिरकार पुलिस के हत्थे चढ़ गया है। पुलिस ने पालमपुर थाना के अंतर्गत 48 लाख रुपए की ठगी के मामले में दिल्ली से एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। मामला लगभग एक वर्ष पुराना है। ऐसे में पुलिस द्वारा आरोपी की गिरफ्तारी को बड़ी सफलता माना जा रहा है। आरोपी मूलत: मिजोरम का रहने वाला है तथा पिछले कुछ समय से किराएदार के रूप में दिल्ली में रह रहा था।

पहले मित्र बनकर जीता विश्वास, फिर दिया धोखा

जानकारी अनुसार गत वर्ष अक्तूबर माह में ठगी का यह मामला सामने आया था जिसमें सोशल मीडिया के माध्यम से क्षेत्र की एक महिला का मित्र बनकर उक्त युवक ने ठगी को अंजाम दिया था। बताया जा रहा है कि सोशल मीडिया में मित्र बनकर पहले उक्त आरोपी ने महिला को अपने विश्वास में लिया, जिसके पश्चात उक्त महिला आरोपी की बातों में आकर 48 लाख की धनराशि गंवा बैठी। यह सारी धनराशि ऑनलाइन आरोपी के खाते में ट्रांसफर की गई थी। इसके पश्चात शिकायत पुलिस के पास पहुंची थी। पुलिस ने आरोपी की धरपकड़ के लिए कार्रवाई शुरू की और कुछ सुराग जुटाए। इन सुरागों को कड़ी-दर-कड़ी जोड़ते हुए पुलिस आरोपी की पहचान करने में सफल रही तथा उसे दबोचने के लिए जाल बुना।
दिल्ली से गिरफ्तार किया आरोपी

पुलिस को आरोपी के दिल्ली में होने की सूचना मिली, जिस पर पालमपुर पुलिस की एक विशेष टीम दिल्ली रवाना हुई जहां उसे गिरफ्तार कर लिया गया। उपमंडल पुलिस अधिकारी डा. अमित शर्मा ने आरोपी रोजामलियाना की गिरफ्तारी की पुष्टि करते हुए बताया कि आरोपी मूलत: मिजोरम के आइजोल जनपद के कुलीकोड का रहने वाला है तथा वर्तमान में दिल्ली के किशनगढ़ में किराए के मकान में रह रहा था। उन्होंने कहा कि आरोपी को गिरफ्तार कर पूछताछ जारी है। सोमवार को उसे न्यायालय में पेश किया जाएगा।
नहीं थम रहे ठगी के मामले

झांसा देकर ठगी के मामले थम नहीं रहे हैं। पालमपुर में ही एक सेवानिवृत्त अध्यापक लगभग 35 लाख से अधिक की धनराशि लॉटरी के नाम पर गंवा चुका है तो एक बैंक में फर्जी कॉल कर व्यवसायी के खाते से लगभग 8 लाख रुपए की धनराशि भी निकलवाने का मामला सामने आ चुका है। यद्यपि पुलिस ऐसे मामलों को लेकर लोगों को समय-समय पर सचेत करती आई है। फिर भी लोग ठगों के झांसे में आकर लाखों की जमापूंजी गंवा रहे हैं।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...