गोवा के बीचों पर खतरनाक मछली, इतने लोगों को बनाया शिकार, मचा हड़कंप



हिमाचली खबर: गोवा जाने का सपना हर कोई देखता है। समंदर का किनारा हो, दोस्तों का साथ हो, और खूब मस्ती हो। गोवा का खूबसूरती ही ऐसी होती हैं कि वो सबको अपनी ओर खीच लेती है। बड़ी संख्या में लोग यहा आते हैं। लेकिन इस बार आपका समंदर में मस्ती करना भारी पड़ सकता है।

90 लोगों को जेलीफिश ने मारा डंक
बीते कुछ दिनों में 90 लोगों को जेलीफिश ने डंक मारा है। जेलीफिश के संपर्क में आने से उन लोगों का उपचार करना पड़ा। अब इनकी कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।

दरअसल, पिछले दो दिन से गोवा के बागा-कैलंग्यूट बीच पर जेलीफिश ने करीब 55 लोगों पर हमला किया। वही कैंडोलिम बीच पर इस जहरीली मछली ने 10 लोग को डंक भी मारा। यही नहीं दक्षिण गोवा में भी 25 से अधिक मामले सामने आए है। जिनके डंक मारने के कारण लोगों को उपचार कराने की ज़रूरत पड़ी।



शरीर में होता है दर्द
बता दें, कि इस जेलीफिश के संपर्क में आने पर शरीर में दर्द होने लगता है और ये साथ ही ये इंसानी शरीर के जिस भी पार्ट को टच करती हैं वो सुन्न पड़ जाती है। इसके अलावा कई केस में इनके टच की वजह से बहरेपन की भी शिकायत मिली है।

ख़बरों की माने तो बागा बीच पर हुई इस घटना के बाद मौके पर तत्काल एंबुलेंस को बुलाया गया। उसे तुरंत ऑक्सीजन लगाया गया जिसके बाद उसे अस्पताल पहुंचाया गया। एक व्यक्ति को जब जेलीनेफिश ने काटा जिसके बाद उसके सीने में दर्द होने लगा, साथ ही सांस लेने में कठिनाई आने लगी।

आपको बता दें, कि जेलिफिश दो प्रकार की होती हैं सामान्य और जहरीली। ज्यादातर ये जेलिफिश किसी को नुक्सान नहीं पहुंचती है लेकिन, इनके संपर्क में आने से मामूली सा जलन होता है। लेकिन कई मामलों में इनके संपर्क में आने से ज्यादा ही नुकसान होता है। 
आपको निचे दी गयी ये खबरें भी बहुत ही पसंद आएँगी।
ससुर को लग गई बहू से संबंध बनाने की लत, बेटे को तब लगी भनक जब…
लाश को रात में क्यों नहीं छोड़ना चाहिए अकेले, जानिए ये खतरनाक सच्चाई
इस खास किसम के मशरूम को सूंघते ही कामुक हो जाती हैं लड़की, वैज्ञानिक भी हैं हैरान
रात को पत्नी ने कहा पांव में पायल चुभ रही है उतार दो, सुबह होते ही पति के उड़ गए होश
बढ़ती जा रही है महिलाओं दवारा प्राइवेट पार्ट में तंबाकू रखने की घटना, जानिए क्यों करती हैं ऐसा
ऐसी ही अन्य खबरों के लिए अभी हमारी वेबसाइटHimachalSe पर जाएँ

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...