पहले पटाखे, अब छठ पर केजरीवाल सरकार ने दिल्ली में किया बैन


पहले पटाखे, अब छठ पर केजरीवाल सरकार ने दिल्ली में किया बैन - अब दिल्ली में भी दिवाली मनाने के नियम बन चुके है अब केजरीवाल सरकार ने एक और त्यौहार पर फिर से नियम लागु कर दिए है। पहले केजरीवाल सरकार ने दीपावली पर पटाखों को बेन किया था और इसके साथ-साथ ये भी बोला था कि जो पटाखे फोड़ेगा उस पर कम-से-कम 1 लाख रुपये का जुर्माना तो लगायगे ही उसी के साथ साथ उसे 6 साल की सज़ा भी होगी।

उसके बाद आज केजरीवाल ने एक और बड़ा फैसला लिया है और जो दिल्ली में छठ पूजा होती थी उसको भी अब बेन कर दिया गया है। केजरीवाल ने ये आदेश दिया है कि इस बार दिल्ली में इस साल खुले में, नदियों में और मंदिरो में छठ पूजा नहीं मनाई जायगी। अगर फिर भी किसी ने नदियों और मंदिरो में छठ पूजा की तो उसे जुर्माना और सज़ा दी जा सकती है और सख्त कार्यवाही भी हो सकती है। अब केजरीवाल सरकार ने दिल्ली के अधिकारियो को लिखित आदेश भी दे दिया है। अब ये अधिकारी ही सुनिश्चित करेंगे की कोई दिल्ली में इस नियम को लागु कर रहे है या नहीं।

वैसे तो छठ पूजा एक ऐसा त्यौहार है जो खुले में ही मनाया जाता है और इस त्यौहार में पहले शाम को पानी में खड़े होकर सूरज के उगते ही पानी में खड़े होकर फिर अर्घ दिया जाता है। छठ को नदियों के किनारे ही मनाने का रिवाज है। दिल्ली में यमुना नदी के किनारे बड़े पैमाने पर लोग छठ पूजा मनाते है लेकिन इस बार ऐसा कुछ भी नहीं होगा। पहले भी दिल्ली में कोरोना काल में ही ईद और काफी सारे इस्लामिक त्यौहार मनाये गए है लेकिन केजरीवाल सरकार ने सिर्फ दिवाली और छठ पूजा को ही बेन किया है। देश विदेश की खबरें और मज़ेदार लेख के लिए यहाँ क्लिक करें साथ में हमें फॉलो करना न भूलें।
ऐसी ही अन्य खबरों के लिए अभी हमारी वेबसाइटHimachalSe पर जाएँ

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...