नवंबर में बैंकों की छुट्टियां ही छुट्टियां, निपटा लें काम, नहीं तो पड़ सकते हैं परेशानी में





नवंबर में बैंकों की छुट्टियां ही छुट्टियां, निपटा लें काम, नहीं तो पड़ सकते हैं परेशानी में: रविवार से नवंबर महीने की शुरुआत होने जा रही है। इस महीने में कई त्योहार पड़ने वाले हैं। इन त्योहारों में दिवाली, छठ, गुरु नानक जयंती जैसे कई बड़े पर्व हैं। इस महीने में बैंकों में छुट्टियां अधिक पड़ने वाली हैं। आपको इन छुट्टियों को ध्यान में रखते हुए आप बैंक का काम निपटा लें।

लेकिन नंबर कुछ छुट्टियों के कारण देशभर के बैंक बंद रहेंगे, तो वहीं राज्यों के स्थानीय त्योहारों के कारण भी बैंक बंद रहेंगे। अलग अलग दिनों में छुट्टी होने की वजह से चलते बैंकों में कामकाज नहीं हो सकेगा। गौरतलब है कि नवंबर की शुरुआत रविवार साप्ताहिक अवकाश से ही होने जा रही है और खत्म भी छुट्टी के साथ ही हो रहा है।

शिलॉन्‍ग में इस वजह से रहेगी छुट्टी
नवंबर के पहले हफ्ते में बैंकों में कोई छुट्टी नहीं रहेगी। इसके बाद 8 नवंबर को रविवार होने की वजह से सभी राज्यों में बैंकों में अवकाश रहेगा। इस दिन कामकाज नहीं होगा। जबकि दूसरे हफ्ते में 13 नवंबर को वांगाला त्योहार है जिसके कारण शिलॉन्‍ग के बैंक बंद रहेंगे।

इसके बाद 14 नवंबर को दीपावली है और 15 नवंबर को रविवार होने के कारण सभी राज्यों में बैंकों में अवकाश रहेगा, तो वहीं 16 नवंबर को भाईदूज मनाया जाएगा, तो अधिकतर राज्‍यों में बैंक बैंद रहेंगे।

17 और 18 नवंबर को सिक्‍किम में बैंकों के कामकाज प्रभावित हो सकते हैं, क्योंकि 16 से 18 नवंबर तक प्रदेश में दिवाली मनाई जाएगी। 20 और 21 नवंबर को छठ पर्व है जिसके कारण बिहार और झारखंड में बैंक बंद रहेंगे। 22 नवंबर रविवार होने की वजह से सभी राज्यों में बैंकों की छुट्टी रहेगी।

23 नवंबर को शिलॉन्‍ग में बैंकों में कामकाज नहीं होगा, तो वहीं 28 नवंबर महीने का चौथा शनिवार है जिसके चलते अधिकतर राज्यों में बैंक बंद रहेंगे। 29 नवंबर को रविवार है तो वहीं 30 नवंबर को गुरु नानक जयंती/कार्तिक पूर्णिमा है। इस दिन भी ज्यादातर राज्‍यों के बैंक बंद रहेंगे। देश में कुछ ऐसा त्योहार पड़ेंगे जिसके कारण देशभर के बैंक बंद रहेंगे। राज्यों और शहरों में स्थानीय पर्व के बैंकों में छुट्टी रहेंगे।
ऐसी ही अन्य खबरों के लिए अभी हमारी वेबसाइटHimachalSe पर जाएँ

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...