चम्बा में 80 किलो रंगदार मिठाई करवाई नष्ट, 10 मिठाइयों के लिए सैंपल



त्यौहारी सीजन में गुणवत्ताहीन मिठाइयां बेचने वालों पर खाद्य एवं सुरक्षा विभाग ने कार्रवाई शुरू कर दी है। बुधवार को विभाग की टीम ने मुख्य बाजार चम्बा, करीयां व साहो क्षेत्र में दुकानों में दबिश दी। इस दौरान विभिन्न मिठाइयों के सैंपल लिए गए, जिन्हें जांच के लिए कंडाघाट स्थित लैब में भेज दिया गया है। इसके साथ ही करीब 80 किलो रंगदार मिठाइयों को नष्ट भी करवाया। इससे विके्रताओं में हड़कंप मच गया है।


बुधवार को खाद्य सुरक्षा विभाग की सहायक आयुक्त सविता ठाकुर तथा खाद्य सुरक्षा अधिकारी चम्बा दीपक आनंद की अगुवाई में टीम ने पहले मुख्य बाजार में मिठाइयों की दुकानों पर दबिश देकर मिठाइयों की गुणवत्ता की जांच की। इसके बाद करीयां व साहो का रुख किया। यहां भी खाद्य विक्रेताओं को आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किए गए। इस दौरान विभाग की टीम ने गुणवत्ता पर संदेह होने पर बर्फी, दो रसगुल्ला, मोतीचूर लड्डू, गुलाब जामुन, चमचम, कोकोनैट बर्फी व बूंदी लड्डू के सैंपल लिए। सैंपलों को जांच के लिए कंडाघाट लैब भेजा गया है। रिपोर्ट आने के बाद ही इन मिठाइयों की गुणवत्ता का पता चल पाएगा। इसके बाद अगर कोई मिठाइयां मानकों पर खरा नहीं उतरती हैं तो संबंधित विभाग के खिलाफ विभाग द्वारा आगामी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

बुधवार को कार्रवाई के दौरान विभाग की टीम ने कुल 80 किलोग्राम रंगदार मिठाई भी नष्ट करवाई ताकि उसका सेवन कर कोई बीमार न हो। दीवाली पर्व नजदीक आते ही खाद्य एवं सुरक्षा विभाग ने अपनी सक्रियता बढ़ा दी है। विभाग द्वारा रोजाना खाद्य वस्तुओं तथा मिठाइयों की गुणवत्ता परखी जा रही है ताकि कोई भी विक्रेता गुणवत्ताहीन खाद्य वस्तुएं बेचकर लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ न कर सके। त्यौहारी सीजन में कुछ विक्रेता अधिक कमाई के चक्कर में उपभोक्ताओं को गुणवत्ताहीन खाद्य वस्तुएं बेच देते हैं। इससे लोगों के स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है लेकिन इस बार खाद्य एवं सुरक्षा विभाग की ऐसे विक्रेताओं पर पूरी नजर है।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...