नेरचौक मेडिकल कॉलेज में कोरोना से 7 की मौत, 114 नए संक्रमित मरीज



नेरचौक मेडिकल कॉलेज एवं कोविड अस्पताल में बुधवार को 7 और लोगों की कोरोना से मौत हो गई। जानकारी के अनुसार जगतसुख मनाली निवासी 71 वर्षीय व्यक्ति को 17 नवम्बर को ही भर्ती किया गया था लेकिन बुधवार सुबह उसने प्राण त्याग दिए। वहीं नेरचौक के ही 85 वर्षीय व्यक्ति को भी यहां 16 नवम्बर को पॉजिटिव आने के बाद भर्ती किया गया था लेकिन बुधवार सुबह उसने भी प्राण त्याग दिए। इसके अलावा कुल्लू के साढ़ाबाई निवासी 85 वर्षीय व्यक्ति की भी मौत हुई है जिसे 16 नवम्बर को यहां लाया गया था।


इसके अलावा मंडी शहर के साथ लगते शिला कीपड निवासी 78 वर्षीय महिला की कोरोना संक्रमण की चपेट में आने से मौत हो गई है। उक्त महिला को बीती देर रात नेरचौक मेडिकल कॉलेज में लाया गया था। वैंटिलेटर पर रखने के 12 घंटे बाद उसने दम तोड़ दिया। वहीं देर शाम बल्ह के सुरहन्दी निवासी 51 वर्षीय महिला, कुल्लू जिला के 63 वर्षीय चिरद मोनाला निवासी व मंडी जिला के तहत झीड़ी निवासी 33 वर्षीय युवक ने भी दम तोड़ दिया है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. दवेंद्र शर्मा ने 7 मौत की पुष्टि की है। वहीं वरिष्ठ चिकित्सा अधीक्षक डॉ. जीवानंद चौहान ने बताया कि अभी भी कई मरीज यहां सीरियस हैं। हमारी टीम उन्हें वैंटिलेटर सपोर्ट पर रखे हुए है। बता दें कि मंडी जिला में अब तक 63 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है।

बुधवार को जिला में एक चिकित्सक व पुलिस अधीक्षक कार्यालय मंडी के 2 कर्मियों समेत 3 हलकों में कोरोना संक्रमण के 114 नए मामले आए हैं। बुधवार को डीसीसीसी छिपणु में क्वारंटाइन एक चिकित्सक कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। पुलिस अधीक्षक मंडी के जिला अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (डीसीआरबी) में तैनात 2 पुलिस कर्मी कोरोना की चपेट में आए हैं। इससे पुलिस अधीक्षक कार्यालय में कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा मंडरा गया है। पुलिस अधीक्षक शालिनी अग्निहोत्री खुद कोरोना की चपेट में आ चुकी हैं। सरकाघाट उपमंडल के गोपालपुर, टिक्करी व बलद्वाड़ा के 12 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। बल्ह हलके के मैरामसीत, लोहारा व नेरचौक में 5 मामले आए हैं। सुंदरनगर उपमंडल के जरल, पुराना बाजार, अप्पर वैहली, भोजपुर, कनैड़ में 12 लोग संक्रमित पाए गए हैं। सदर हलके के लोअर बिजणी में भी कोरोना संक्रमण के 2 मामले आए हैं।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...