बुरी खबरः 2020 से भी ज्यादा खराब होगा 2021, भयानक ढंग से


बुरी खबरः 2020 से भी ज्यादा खराब होगा 2021, भयानक ढंग से - साल 2020 का साल काफी खराब है. कोरोना वायरस महामारी के कारण विश्व में हाहकार मचा हुआ है. ऐसे में हर व्यक्ति चाहता है कि जल्दी से यह साल बीत जाए ताकि नया साल आए तो लोगों कुछ सूकून की सांस ले सके. लेकिन अब संयुक्‍त राष्‍ट्र के विश्व खाद्य कार्यक्रम के प्रमुख डेविड बेस्‍ली ने चेताया है कि साल 2020 से भी ज्यादा खराब साल 2021 से भी खराब होने वाला है. उनका अनुमान है कि अगले साल लाखों लोग भुखमरी की तरफ जा सकते हैं क्योंकि दुनिया भर के देशों से मिलने वाली अरबों डॉलर की आर्थिक मदद का अगले साल मिलना मुश्किल हैं क्योंकि इस समय दुनिया कोरोना वायरस के कारण उपजी आर्थिक चुनौतियों का सामना कर रही है.

डेविड बेस्ली ने एसोसिएटेड प्रेस को दिए एक इंटरव्‍यू में कहा कि नॉर्वेजियन नोबेल समिति उस काम को देख रही थी, जो एजेंसी हर दिन संघर्षों, आपदाओं और शरणार्थी शिविरों में करती है. अक्सर कर्मचारियों को लाखों भूखे लोगों को खाना खिलाने के लिए अपनी जान जोखिम में डालनी पड़ती है. उन्होंने आगे कहा कि अभी हमारा मुश्किल वक्त अभी आना बाकी है क्योंकि आगे आने वाले दिनों में कठिनाईयां बढ़ने वाली हैं.

बेस्ले ने अप्रैल में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद को दी चेतावनी को याद करते हुए कहा कि चूंकि दुनिया कोरोनावायरस महामारी से जूझ रही थी, इसी दौरान दुनिया भूखमरी की कगार पर भी था, और जिस पर तत्काल एक्शन नहीं होने पर कुछ महीनों के भीतर ही कई बड़े अनुपात अकालों को जन्म दे सकती थी.

डेविड बेस्ली ने कहा कि साल 2020 में वो हालात को बदलने में सफल तो रहे, क्योंकि कई देशों ने पैसे, प्रोत्साहन पैकेज, ऋण की अस्वीकृति का ऐलान किया. वहीं उन्होंने आगे कहा कि कोरोना एक बार फिर अपने पैस पसार रहा है, गरीब और मध्यम आय वाले देशों की अर्थव्यवस्था लगातार गर्त में जा रही है और कोरोना की एक और वेव आने वाली है जिसके कारण लॉक डाउन और शटडॉउन होने की उम्मीद है. ऐसे में उन्होंने बताया कि जितना पैसा साल 2020 में उपलब्ध था उतना अगले साल उपलब्ध नहीं होने वाला है. ऐसे में स्थिति बदल सकती है.

बता दें, वर्ल्‍ड फूड प्रोग्राम को भूखमरी और अकाल जैसी स्थिति से निपटने के लिए हर साल 5 अरब डॉलर की जरूरत होती है. इसके साथ ही पूरे विश्‍व में 10 अरब डॉलर की जरूरत और पड़ती है, जिससे कुपोषित बच्चों और स्कूल लंच के लिए एजेंसी के वैश्विक कार्यक्रमों को ठीक तरीके से चलाया जाता है. अप्रैल में बेस्‍ली ने बताया था कि दुनिया भर के 13.5 करोड़ लोगों ने कोरोना के दौरान भुखमरी का सामना किया. वर्ल्‍ड फूड प्रोग्राम के एक विश्‍लेषण से यह पता चलता है कि 2020 के अंत तक 30 करोड़ और लोग भुखमरी के शिकार हो सकते हैं.
ऐसी ही अन्य खबरों के लिए अभी हमारी वेबसाइटHimachalSe पर जाएँ

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...