//]]>
---Third party advertisement---

Una: जब कांग्रेस नेता को धूमल के नाम पर आई फर्जी कॉल



 कांग्रेस के एक बड़े नेता से पूर्व मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल का नाम लेकर बात करने की योजना पूरी तरह से धराशायी हो गई। दरअसल कांग्रेस के केंद्रीय नेता आचार्य प्रमोद कृष्णन को एक फोन आया, जिसमें फोन करने वाले व्यक्ति ने अपना परिचय हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल के रूप में करवाया। दरअसल आचार्य प्रमोद कृष्णन कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी की एडवाइजर टीम के अहम सदस्य हैं तथा उन्होंने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के खिलाफ चुनाव भी लड़ा है।


जब व्यक्ति ने खुद का प्रो. धूमल के रूप में परिचय करवाते हुए बात करनी शुरू की तो आचार्य प्रमोद कृष्णन को कुछ संदेह हुआ कि जब खुद केंद्र में अनुराग ठाकुर एक सशक्त मंत्री के रूप में मौजूद हैं तो धूमल उन्हें फोन क्यों कर रहे हैं। इस पर कांग्रेस नेता ने हिमाचल प्रदेश में विपक्ष के नेता मुकेश अग्निहोत्री से संपर्क किया और उस टैलीफोन नम्बर का भी जिक्र किया जिससे फोन आ रहा था, ऐसे में उस व्यक्ति की पूरी तरह से कलई खुल गई जो फर्जी तरीके से प्रभाव जमाने के लिए प्रो. धूमल के नाम का प्रयोग कर रहा था।

नेता विपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने नम्बर की जांच भी की और खुद पूर्व सीएम प्रो. धूमल को भी इसकी जानकारी दी। बाद में पता चला कि फोन आंध्र प्रदेश से किसी व्यक्ति का था। इस पर अब पड़ताल की जा रही है कि आखिर प्रो. धूमल का नाम लेकर फोन करने के पीछे उद्देश्य क्या था और वास्तव में यह व्यक्ति कौन है। उल्लेखनीय है कि आचार्य प्रमोद कृष्णन एक आध्यात्मिक गुरु हैं।

वहीं पूर्व सीएम धूमल का कहना है कि पहले भी एक मामले में केस दर्ज हुआ था और अब जिन्हें फोन आया है उन्हें उस व्यक्ति के खिलाफ कार्रवाई करवानी चाहिए ताकि फर्जीवाड़े का पर्दाफाश हो सके। नेता विपक्ष मुकेश अग्निहोत्री का कहना है कि आचार्य प्रमोद कृष्णन ने उनसे इस मामले पर चर्चा की थी जिसके बाद यह फर्जी कॉल करने वाले का पटाक्षेप हुआ है।

Post a Comment

0 Comments