//]]>
---Third party advertisement---

Shimla: रिश्वत के साथ गिरफ्तार एसडीओ निलंबित



कांगड़ा में रिश्वत के साथ रंगे हाथ गिरफ्तार सहायक अभियंता (एसडीओ) को निलंबित कर दिया है। जल शक्ति विभाग में मनेई उपमंडल में तैनातएसडीओ कमल कुमार को स्टेट विजीलैंस एंड एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम ने 19 हजार रुपए की रिश्वत के साथ गिरफ्तार किया था। ठेकेदार से सरकारी काम के बदले रिश्वत मांगने वाले एसडीओ की धर पकड़ के लिए विजीलैंस ने पहले जाल बिछाया और शनिवार देर शाम आरोपी को रिश्वत के साथ पकड़ा।


विजीलैंस के मुताबिक जल शक्ति विभाग के ठेकेदार अजय कुमार ने विजीलैंस को शिकायत दी कि सरकारी काम के एवज में एसडीओ रिश्वत मांग रहा है। इसके बाद ठेकेदार ने एसडीओ से बात करके रिश्वत की रकम और इसे देने का स्थान तय किया। तब विजीलैंस ने जाल बिछाकर सलोल के पास जैसे ही ठेकेदार ने रिश्वत की रकम एसडीओ को दी, विजीलैंस ने उसे रंगे हाथ दबोच लिया।

इसके बाद आरोपी को रविवार को न्यायालय में पेश किया गया, जहां से उसे 27 अक्तूबर तक पुलिस रिमांड पर भेजा गया है। हैरानी इस बात की है कि गिरफ्तारी के तीसरे दिन भी जल शक्ति विभाग धर्मशाला जोन के अधिकारियों ने विभागीय सचिव और प्रमुख अभियंता को सूचित तक करना उचित नहीं समझा। विभाग की ओर से गिरफ्तारी की रिपोर्ट न मिलने के कारण एसडीओ को डीम्ड सस्पैंड किया गया है। जल शक्ति विभाग सचिव विकास लाबरू ने कहा कि एसडीओ की गिरफ्तारी की रिपोर्ट नहीं मिली है। 48 घंटे बीत जाने से अब उसे डीम्ड सस्पैंड माना जाएगा।

Post a Comment

0 Comments