Mandi: जब 4 दिन बड़े भाई की लाश के साथ भूखे-प्यासे सोते रहे मानसिक रूप से कमजोर 3 भाई




मंडी जिला के पधर उपमंडल में मानसिक रूप से कमजोर 3 भाई अपने एक बड़े भाई की लाश के साथ 4 दिन भूखे-प्यासे सोते रहे लेकिन उन्हें इस बात का आभास नहीं हो पाया कि जो भाई उनकी देखरेख करता था उसमें अब प्राण नहीं थे। डुघा पधर नामक गांव में घटी इस घटना के बाद जब रिश्तेदार घर आए तो उन्होंने 4 में से एक बड़े भाई को मृत पाया और अन्य को भूख-प्यास से तड़पते देखा तो सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने शव को कब्जे में लिया और पोस्टमार्टम के बाद रिश्तेदारों को सौंप दिया है।


उक्त युवक परिवार में सबसे बड़ा था और 3 छोटे मंदबुद्धि भाइयों का वही सहारा था। घर में 3 मंदबुद्घि भाइयों के अलावा और कोई भी नहीं रहता था। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मृतक सुरेंद्र कुमार (36) पुत्र लाल सिंह निवासी डुघा पधर अपने 3 मंदबुद्घि भाइयों के साथ रहता था और परिजनों के देहांत के बाद वही अपने भाइयों का भरण-पोषण कर रहा था। करीब 4 दिन पहले अचानक युवक का देहांत हो गया था लेकिन मंदबुद्घि भाइयों के लिए यह सब सामान्य ही था।

मंगलवार सुबह युवक का कोई दूर का रिश्तेदार उनके घर पहुंचा जहां का नजारा देख उसने पधर पुलिस को घटना की जानकारी दी। पुलिस ने मामला दर्ज कर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए पधर अस्पताल पहुंचाया, जहां पोस्टमार्टम के बाद शव रिश्तेदारों को सौंप दिया गया। एसपी मंडी शालिनी अग्निहोत्री ने कहा कि पुलिस मामले में जांच कर रही है। मौत के कारण पोस्टमार्टम में ही सामने आएंगे।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...