एसी फीटिंग करने आए युवक पर मकान मालकिन का आया दिल, पति को छोड़ संग भागी



कब किसका दिल, किस पर आ जाए कह पाना मुश्किल है। मगर कई बार वक्‍त ऐसा होता है कि परिवार बिखर जाते हैं। ऐसा ही एक वाकया पानीपत में भी सामने आया है। यहां पचरंगा बाजार निवासी को घर में एसी फीटिंग कराना महंगा पड़ गया। एसी लगवाने के तीन माह बाद पत्नी घर छोड़ संदिग्ध परिस्थितियों में फरार हो गई। पति ने एसी मैकेनिक वरिंद्र नरवाल पर पत्नी का अपहरण करने का आरोप लगाया है।

थाना शहर पुलिस को दी शिकायत में पति ने बताया कि उसने दिसंबर 2013 में इंसार बाजार निवासी युवती के साथ लव मैरिज की थी। अब उनकी एक बेटी है। जून 2020 में घर में एसी फीटिंग कराने के लिए एसी मैकेनिक वरिंद्र नरवाल को घर पर बुलाया था।

लाइट नहीं होने के कारण मैकेनिक वरिंद्र उसकी पत्नी को अपना मोबाइल नंबर देकर चला गया। लाइट आने पर मैकेनिक घर में आकर फीटिंग कर गया। इसके बाद दोनों में आपस में बातचीत शुरू हो गई। 8 अक्टूबर की रात साढ़े 12 बजे उसकी आंख खुली तो पत्नी वाट्सएप पर एसी मैकेनिक वरिंद्र से बातचीत कर रही थी।

दोनों की चैटिंग और वीडियो देख उसने ससुराल पक्ष के लोगों को इस बारे बताया तो गलती मान ली। फिर एक दिन पत्नी संदिग्ध परिस्थितियों में घर से कहीं चली गई। काफी तलाशने पर भी उसका कोई भेद नहीं लगा। पुलिस ने आरोपित एसी मैकेनिक वरिंद्र के खिलाफ केस दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है।

ससुर के साथ जींद तक की तलाश

पत्नी को तलाशते हुए पति और ससुर गांव निंबरी पहुंचे। वहां स्वजनों ने बताया कि वहां से जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि वरिंद्र पिछले 15 दिनों से मां के साथ जींद में रह रहा है। वह वरिंद्र के स्वजनों के बताए पते पर कैथल रोड, जींद पहुंचा तो वो पता गलत निकला।

ऐसी ही अन्य खबरों के लिए अभी हमारी वेबसाइटHimachalSe पर जाएँ

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...