//]]>
---Third party advertisement---

ऑफिस में काम करते हुए नींद आने लगती है? हम समझ सकते हैं! ये करो!

ऑफिस में काम करते हुए नींद आने लगती है? हम समझ सकते हैं! ये करो!

मैं उम्मीद कर रही हूँ की आप मेरा ये लेख ऑफिस में झपकी लेने से बचने के लिए नहीं पढ़ रहे हैं!

और अगर पढ़ रहे हैं तो इस से बढ़िया बात तो कुछ और हो ही नहीं सकती है!

अगर आप ऑफिस में, खासकर दोपहर को लंच के बाद काम करते हुए नींद आती है और परेशान हैं, तो जनाब आप सही जगह आ पहुंचे हैं! मैं आप का दर्द बखूबी समझ सकती हूँ! आखिर कौन नहीं गुज़रा है ऐसे मार्मिक दौर से? पिछली रात की पार्टी, या देर रात टीवी पर कोई इंटरेस्टिंग फिल्म, या फिर उन के साथ गर्मागर्म मुलाक़ात, कुछ भी हो सकता है कारण, मगर हर बात का है निवारण!

जी हाँ! मेरे पास हैं कुछ ख़ास नुस्खे जिन से आप इस अंगद के पाँव जैसी नींद की झपकियों से बच सकते हैं और एक दम रिफ्रेश हो कर वापस काम पर लग सहते हैं, और हाँ, बॉस से थोड़े एक्स्ट्रा नंबर भी जुटा सकते हैं!

तो पढ़ते रहिये, ऑफिस में काम करते हुए नींद आती है – उसे भगाने के ये अचूक तरीके!

1) ज़रा सूरज की रौशनी में चलफिर कर आइये

झट से उठिए और ऑफिस के बाहर का एक चक्कर लगा कर आईये! इस से एक तो ये होगा की आप का शरीर वापस तेज़ हरक़त में आ जाएगा जिस से ऊर्जा का संचार होने लगेगा! और दूसरा आप की आँखों में सूरज की रौशनी पड़ते ही आँखों की पुतलियों से होते हुए जब दिमाग के पिनियल ग्लैंड्स तक पहुँचती है तो मेलाटोनिन हार्मोन का बनना बंद हो जाता है! मेलाटोनिन वह हार्मोन है जो एक जगह काफी देर तक, बिना सूरज की रौशनी पाये, बैठे रहने से बनता है, और हमें सोने पर मजबूर कर देता है! तो समझ गए न आप, एक मज़बूत इलाज?

2) योगी बन जाइए

नहीं नहीं सन्यासी वाला योगी नहीं! अभी वो उम्र नहीं आई है आप की! योगी से मेरा मतलब है, योग का सहारा लीजिये झपकियों से निजात पाने के लिए! योग का ये ख़ास पोज़ जिसे योग कूद भी कहा जाता है, बस वो लगाईये अपनी सीट के पीछे खड़े खड़े! अपने दोनों पाँव तक़रीबन कंधे बराबर दूरी पर रखिये, अपने दोनों हाथ ऊपर हवा में उठाईये, और पूरे शरीर को अच्छी तरह से ऊपर की ओर स्ट्रेच कीजिये जितना कर सकते हैं! फिर धीरे से दोनों हाथों को अपनी छाती के सामने की ओर हवा में ले आईये और घुटनों को हल्का सा मोड़ लीजिये! इसी पोजीशन में जितना ऊंचा कूद सकते हैं कूदिये! और देखिये हो गयी नींद छू मंतर!

3) जिनसेंग के गुण आज़माइए

जी, ऑफिस में अगर आप 8-10 घंटे बिताते हैं तो उन घंटो में 3 या 4 कप चाय कॉफ़ी तो ज़रूर पीते होंगे? है न? चाय कॉफ़ी में मौजूद चीनी शरीर में आलस्य का जमावड़ा लगाती है! अपनी चाय और कॉफ़ी को कम कीजिये और कोशिश कीजिये दिन में एक या दो कप जिनसेंग चाय या ग्रीन टी पीजिये! चायनीस जिनसेंग में पाये जाने वाले पदार्थ कोशिकाओं को स्टिमुलेट करते हैं और सुस्ती को दूर भगाते हैं! देखा नहीं चिनेसे कितने फुर्तीले होते हैं?

4) रोशन रहिये खुद भी और कमरे को भी रोशन रखिये

नींद को रोकने का एक सब से अच्छा और चमकदार उपाय है अपने ऑफिस स्पेस को रौशनी से भरपूर रखना! अगर कुदरती रौशनी आती है तो बहुत अच्छी बात है, वरना कोशिश कीजिये अच्छी खासी मगर आँखों को न चुभने वाली रौशनी रखिये अपनी ऑफिस टेबल के आसपास!

5) मेंथॉल या पेपरमिंट का साथ पाइए

जी हाँ, ये भी एक बहुत ही आसान तरीका है नींद भगाने का! अगर आप के पास नोज़ इनहेलर, वही जो जुखाम में इस्तेमाल करते हैं, वो है तो उस को नाक के दोनों छेदों से बारी बारी से सटा कर एक भरपूर साँस खींचिये! मेंथॉल में मौजूद चमत्कारी स्टिमुलैंट्स आप के सेंसेज़ पर अनोखा काम करेंगे और आप की नींद उड़न छू हो जायेगी! अगर इनहेलर नहीं है तो पेपरमिंट की गोली मुहँ में दाल लीजिये! पेपरमिंट का तीखा और मीठा स्वाद दिमाग की कोशिकाओं को झनझनाता है जिस से, दिमाग वापस हलचल करने लगता है! और पेपरमिंट का स्वाद तो वैसे भी सब को पसंद है! माउथ फ्रेश्नर का काम भी साथ-साथ हो जाएगा!

6) और आखिर वाला सब से मज़ेदार – म्यूज़िक सुनिए

जी नहीं! आप को साउंड ब्लास्टर लगा कर पूरे ऑफिस को नहीं सुनाना है! बस अपने फ़ोन पर कोई कर्णप्रिय संगीत लगा कर चुपचाप हेडफ़ोन लगा लीजिये! संगीत की तरंगे हमारा ध्यान इस तरफ से परे खींच लेती हैं कि हम कोई बोरिंग काम कर रहे हैं! संगीत की धुन दिमाग को उत्तेजित करती है और बस, बोर हो रही, या थक चुकी सेंसेज़ वापस चुस्ती और स्फूर्ति से भर उठती हैं! और नींद समझो, ये गयी वो गयी!

तो जनाब और जनाबियों, ज़रा ये तरीके अपनाओ और अगर नींद भगाने में सफलता पाओ, तो आ कर मुझे कुछ मीठा खिलाओ!

तब तक मैं अपनी नींद भगाने का इंतेज़ाम करती हूँ!

कहाँ है मेरे हेडफोन्स?

Post a Comment

0 Comments