---Third party advertisement---

इन फलों और सब्जियों के रंगों में छुपे राज़ को जानकार आप हैरान रह जायेंगे!

इन फलों और सब्जियों के रंगों में छुपे राज़ को जानकार आप हैरान रह जायेंगे!

बाज़ार में मिलती रंग बिरंगी सब्जी और फल हमें आकर्षित करते है.

सब्जी और फलों के इन रंगों में पौष्टिक तत्व, खनिज पदार्थ, और बिमारी से लड़ने और बिमारी को रोकने वाले गुण छुपे होते हैं – जो हमारी शरीर को रोगों से बचाते हैं और स्वस्थ बनाए रखते है.

क्या आपने ये सब कभी सोचा है इन रंगों में कौन से गुण छुपा है? इन रंगों से हमारे शरीर को क्या फ़ायदा होता है?

आज हम आपको बाज़ार में मिलने वाली रंग बिरंगी सब्जी और फलों के रंगों में छुपी पौष्टिकता के बारे में आपको बताएँगे.

हरा रंग

हरा रंग आँखों और खून के लिए महत्व का होता है. इस रंग के फलों और सब्जीयों में क्लोरोपिफल, बीटा केरोटिन, पफाइबर, जियोजेन्थन, कैल्शयम, ल्यूटीन, और पफोलेट नामक पौष्टिक तत्व होते हैं, जो हमारे शरीर में हीमोग्लोबिन का स्तर बनाए रखता है. आँखों को स्वस्थ बनाए रखता है और आंखों की रौशनी को बढ़ता है. इसके साथ इन रंग वाले चीजों में जो पोषक तत्व और पदार्थ होते है वो पाचन शक्ति को बढ़ाते हैं, जिससे रोग प्रतिरोधक क्षमता बढती है. रक्तचाप की समस्या को कम करता हैं. दांतों से जुड़ी बीमारियों को दूर रखता है और आंतों को कैंसर से बचाता है.

लाल रंग

आहार में लाल रंग हृदय की रक्षा करता है. ह्रदय को रोगों से सुरक्षित रखता है. लाल रंग के फलों और सब्जियों में प्राकृतिक रूप से खनिज, प्रोटीन, क्वेरसिटीन, लाइकोपिन, हेस्पिरीडिन और इलेगिक एसिड, जैसे एंटीऑक्सीडेंट्स रहते हैं. यह एंटीऑक्सीडेंट्स रक्त को तरल अवस्था में रखता है और हृदय रोग होने का खतरा कम हो जाता है. उसके अलावा इस रंग में भी कैंसर के खतरे को रोकने वाले एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं. ये रंग ट्यूमर के खतरे को भी कम करता है. कोलेस्ट्रॉल को बढ़ने से रोकता है. थकान भगाता है, आलस्य से बचाता है.

बैगनी रंग

इस रंग में फायबर, विटामिन सी, ग्लूकोज एन्थोसयनिस, फाइटोकेमिकल्स, क्लोरोजेनिक अम्ल, और कार्बोहाइड्रेट पाए जाते हैं. इसके साथ साथ कैंसररोधी तत्वों भरपूर मात्रा में होते हैं. शरीर के घाव को ठीक करता है. कोशिका झिल्ली को बनाए रखता है. कोशिका की रक्षा करता है. दांतों को कीटाणु से बचता है और स्वस्थ रखता है. ह्रदय की रक्षा करता है. आंत को स्वस्थ रखता है. रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित रखता है. मधुमेह से बचाता है. वैस्कुलर बीमारियाँ और स्ट्रोक से रक्षा करता है. तनाव और आर्थराइटिस से रक्षा करता है.

नारंगी रंग

नारंगी रंग से हमारी शरीर के त्वचा चमकदार रहती है. इस रंग के अंदर मैगनीशियम, कैल्शियम, विटामिन ए और सी, लाइकोपिन ,बीटा कैरोटिन, फ्रलेवोनायड, जिआजेन्थिन, और पोटेशियम कुदरती रूप में उपस्थित होती है, जो कि आंखों एवं त्वचा को स्वस्थ बनाए रखने में मददगार है. साथ ही यह हमारी हडि्डयों को मजबूती देता है. प्रजनन की क्षमता बढ़ता है. जोड़ों में होने वाले जकड़न और पेट के कब्ज़ से बचाता है. एंटीऑक्सीडेंट शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बनाए रखता हैं.

पीला रंग

पीले रंग नेत्रों की रौशनी बढती है. इस रंग में रोग प्रतिरोधक गुण और विटामिन सी प्रचूर मात्र में रहती है इसके अलावा बीटा क्राईपटॉक्सैनिथ्न नामक एक एंटी ऑक्सीडेंट्स होती है, जो कोशिका को क्षति पहुँचाने से रोकती है और इनको नष्ट नहीं होने देता है. साथ ही शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को स्थिर रखता है. एंटीऑक्सीडेंट आंखों को स्वस्थ बनाए रखती है. यह रंग तनाव मुक्त रखता, थकावट नहीं आने देता, बैचेनी होने से रोकता है, और कमजोरी से बचाता है.

नीला रंग

नीला रंग से याददाश्‍त तेज होती और बनी रहती है. इस नीले रंग में अनेक पोषक पदार्थ और तत्व जैसे ल्यूटिन, विटामिन सी, फाइबर, इलेगिक एसिड, जिआजेंथ्न, रेसवराट्रोल, फ्रलेवोनायड, और क्वेरसिटीन होते हैं जो दिमाग की याददाश्त बढ़ने में, तेज करने में और स्वस्थ रखने में सहायक होते है. यह रंग शरीर को मजबूती और स्वस्थ भी रखता है. शरीर के अंदर कैल्शयम का स्तर भी बढ़ाता है. पाचनतन्त्र को सुदृढ़ बनाए रखता है और कैंसर के सेल्स को शरीर के अंदर बढ़ने से रोक देता है.

सफेद रंग

सफ़ेद रंग हार्मोन को संतुलित बनाए रखने में मददगार है. इसमें एलीसिन नामक एक पौष्टिक तत्व पाया जाता है, जो शरीर के अंदर ट्यूमर नहीं बनने देता और स्तन को कैंसर से तो बचाता है. इसके साथ रोगों से लड़ने वाले रसायन भी होते हैं. फ्रलैवोनॉइड् होता है जो कोशिकाओं की रक्षा करता है उनको खत्म होने से रोकती है.

अब आपको इन रंगों में छुपे गुणों का पता चल गया होगा.

इन फलों और सब्जियों के रंगों के पीछे छुपे गुण आपके शरीर की कमियों को पूरा करके आपको स्वस्थ और रोग मुक्त जीवन देता है.

Post a comment

0 Comments