सुहागरात के नाम से ही डरती थी पत्नी, फिर पति ने उसे दिखाई ऐसी चीज, पड गये लेने के देने




शादी के बाद पत्नी ने पहले शारीरिक संबंध बनाने से इन्कार कर दिया। फिर पति को एक अनजान फेसबुक आइडी से उसके किसी पुलिस कर्मी के साथ अवैध संबंधों की फोटो भेजी गई। जब पति ने पत्नी का मोबाइल देखा तो उसमें भी फोटो व वीडियो मिल गए। खुद की पोल खुली तो शादी के करीब पौने दो माह बाद ही विवाहिता घर से गहने व नकदी चुराकर प्रेमी संग फरार हो गई। पति ने इस संबंध में जनवरी 2020 में पुलिस कमिश्नर को शिकायत दी। इसके बाद जांच के बाद पुलिस ने 11 अक्टूबर 2020 को थाना छह में विवाहिता व प्रेमी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। चोरी में विवाहिता का साथ देने के आरोपित लुधियाना के एक एसीपी के गनमैन को क्लीन चिट दे दी गई क्योंकि चोरी की रात वह ड्यूटी पर था।

पुलिस कमिश्नर के आदेश पर इसकी जांच करने वाले एसीपी माडल टाउन धर्मपाल ने जांच रिपोर्ट में लिखा कि मोता सिंह नगर निवासी विशाल महेंद्रू की शादी 31 अगस्त 2019 को घास मंडी निवासी तनु से हुई थी। विशाल ने बयान में बताया कि शादी के एक माह बाद भी पत्नी ने उसके साथ शारीरिक संबंध नहीं बनाए। वह कहती थी कि अभी उसे बच्चा नहीं चाहिए। इसके बाद विशाल को सीरत कौर के नाम से बनी एक फेसबुक आइडी से फ्रेंड रिक्वेस्ट आई। उसने रिक्वेस्ट स्वीकर कर ली। फिर सीरत नामक फेसबुक आइडी से मैसेज भेजकर उसे कहा गया कि उसकी पत्नी तनु के एक पुलिस कर्मी से अवैध संबंध हैं। जिसकी फोटो भी विशाल को भेजी। विशाल ने पत्नी का मोबाइल चेक किया तो उसमें भी ये तस्वीरें व वीडियो मिली।

वीडियो में पत्नी पुलिस कर्मी के साथ आपत्तिजनक हालत में दिखी। विशाल ने अपने माता-पिता को सारी बात बताई और फिर तनु की मां को बुलाया गया। उसने तनु को समझाया और भरोसा दिया कि आगे से ऐसा नहीं होगा। विशाल ने पुलिस को यह भी बयान दिए कि पत्नी वाट्सएप व मैसेंजर पर भी लुधियाना के किसी नितिन नाम के व्यक्ति से बात करती है और उससे भी इसके संबंध हैं। उसने चैट के स्क्रीनशॉट भी पुलिस को दिए।

एसीपी धर्मपाल ने आरोपित पुलिस कर्मचारी को पूछताछ के लिए बुलाया। उसने बताया कि 2016 में उसकी तनु से दोस्ती हुई थी। वह उसके घर भी जाता था। दिसंबर 2017 में तनु ने उससे बातचीत करनी बंद कर दी। फिर उसे पता चला कि तनु की लुधियाना निवासी नितिन ठाकुर नाम के व्यक्ति से दोस्ती हो गई। उसे तनु के मौसी के लड़के ने भी बताया था कि 2018 में तनु नितिन के साथ भाग गई थी। छह महीने वह नितिन के साथ गोवा में रही। जनवरी 2019 में तनु ने उसे बताया कि वह नितिन से शादी करना चाहती है। फिर जून 2019 में उसे तनु ने उसे फोन करके बताया कि अगस्त में उसका परिवार किसी विशाल नामक व्यक्ति से उसकी शादी करवा रहा है।

जांच में पता चला कि 20 व 21 अक्टूबर 2019 की रात जब तनु ससुराल गई थी तो उस वक्त यह पुलिस कर्मचारी बतौर गनमैन लुधियाना के एक एसीपी के साथ ड्यूटी पर था। वह लुधियाना की बहादुरके रोड स्थित दाना मंडी में किसी मर्डर केस की जांच के लिए वहां मौजूद थे और 21 अक्टूबर 2019 तड़के साढ़े तीन बजे तक वहीं ड्यूटी पर रहा। इसी रात को जब विशाल, उसके माता पिता व भाई-भाभी अपने-अपने कमरे में सो रखे थे तो तनु ने उनके कमरे को कुंडी लगा दी और बाहर का दरवाजा खोलकर लुधियाना के नितिन को अंदर बुलाया। इसके बाद वो करीब पांच लाख रुपये के सोने के गहने, करीब 34 हजार की नकदी आदि बैग में भरकर ले गई। एसीपी ने जांच रिपोर्ट में लिखा कि तनु ने नितिन ठाकुर के साथ मिलकर यह चोरी की है और अब उसके साथ ही रह रही है। पुलिस कर्मचारी के उस वक्त ड्यूटी पर होने की वजह से इस चोरी की वारदात में उसकी भूमिका नहीं है।
ऐसी ही अन्य खबरों के लिए अभी हमारी वेबसाइटHimachalSe पर जाएँ

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...