//]]>
---Third party advertisement---

पीआर धान की खरीद नहीं होने पर इंद्री, घरौंडा, करनाल, गढ़ीबीरबल, निगदू मंडियों में किसानों का धरना प्रदर्शन

पीआर धान की खरीद नहीं होने पर इंद्री, घरौंडा, करनाल, गढ़ीबीरबल, निगदू मंडियों में किसानों का धरना प्रदर्शन

घरौंडा. अनाजमंडी के बाहर हाईवे के सर्विस लाइन पर रोष प्रदर्शन करते किसान और आढ़ती।

डीएसपी व थाना प्रभारी ने किसान नेताओं को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वे सड़क पर डटे रहे

सरकारी घोषणा के बावजूद बीते तीन दिनों में धान की खरीद शुरू नहीं हुई। धान नहीं बिकने व सरकार की धान खरीद नीति से गुस्साए किसानों और आढ़तियों ने नेशनल हाईवे के सर्विस रोड पर जाम लगा दिया। प्रदर्शनकारियों ने पीएम, सीएम और स्थानीय भाजपा नेताओं के खिलाफ नारेबाजी की। किसानों के आक्रोश को देखते हुए मौके पर भारी पुलिस बल मौजूद रहा।करनाल, कुंजपुरा, इंद्री में खरीद एजेंसियों ने 112.5 एमटी पीअार धान की खरीद की।

खरीफ सीजन में सरकार के खिलाफ किसानों व आढ़तियों का विरोध प्रदर्शन थमने का नाम नहीं ले रहा । सरकार की तरफ से बीती 27 सितंबर को पीआर धान की खरीद शुरू किए जाने का ऐलान किया गया था, लेकिन तीन दिन बीतने बाद भी किसानों से एक भी दाना नहीं खरीदा गया । खरीद नहीं होने से भड़के किसानों और आढ़तियों ने मंडी में सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने हाइवे का रुख और एनएच वन के सर्विस रोड पर जाम लगा दिया। डीएसपी नरेंद्र सिंह व थाना प्रभारी कंवर सिंह ने किसान नेताओं को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वे सड़क पर डटे रहे।

कुछ समय तक सर्विस रोड पर जाम लगाने के बाद प्रदर्शनकारी मार्किट कमेटी कार्यालय पहुंचे और अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर दिया। किसान यूनियन के जिला अध्यक्ष अजय राणा ने कहा कि सरकार उनके आंदोलन को गंभीरता से नहीं ली रही। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि धान की खरीद शुरू नहीं की गई तो किसान अपने परिवारों के साथ सड़कों पर उतरेंगे। इस मौके पर किसान नेता जगदीप औलख, संधू, सुभाष काजल, सुरेश मित्तल, नरेश गर्ग, अजय महाना, रोहित गोयल मौजूद रहे।

आढ़तियों व किसानों ने ब्याना व घीड़ में किया रोड जाम

गढ़ीबीरबल में गुस्साए किसानों ने गांव ब्याना व घीड़ करनाल गढ़ी बीरबल रोड पर धरना देकर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। मंडी प्रधान राजेश कलसौरा ने कहा कि सरकार द्वारा धान खरीद की घोषणा की जा चुकी है, लेकिन फिर भी धान की खरीद नहीं हो पा रही है। वहीं नीलोखेड़ी-निगदू रोड पर ढाई घंटे जाम लगाया। लगभग साढ़े 11 बजे लगा जाम दोपहर 2 बजे खुला।

खरीद एजेंसी अधिकारी धान की नमी को मापने वाली मशीन ही खराब लेकर पहुंचे

इंद्री अनाज मंडी में किसान व आढ़ती इकट्ठे होकर मार्केट कमेटी कार्यालय पहुंचे और नारेबाजी की। एसडीएम सुमित सिहाग मौके पर पहुंचे और समस्या हल करने का आश्वासन दिया। एसडीएम ने मंडी मे खरीद एजेंसी के अधिकारियों के साथ जाकर खरीद शुरू करवाई, लेकिन स्थिति उस समय फिर बिगड़ी जब खरीद एजेंसी अधिकारी धान की नमी को मापने वाली मशीन ही खराब लेकर पहुंचे।

Post a Comment

0 Comments