//]]>
---Third party advertisement---

शरीर की भीतरी या बाहरी सूजन को कम करने के लिए आजमाएं 8 घरेलू उपचार

शरीर की भीतरी या बाहरी सूजन को कम करने के लिए आजमाएं 8 घरेलू उपचार

शरीर में सूजन का होना एक आम समस्या है जिसे मेडिकल भाषा में इडिमा (Edema) कहा जाता है। अक्सर यह समस्या खुद ठीक हो जाती है लेकिन कई मामलों में यह समस्या गंभीर हो सकती है। कई बार शरीर में भीतरी या बाहरी सूजन का कारण इंफेक्शन के बजाय कुछ और हो सकता है, जो आपके लिए इतना खतरनाक हो सकता है कि अंगों को नुकसान भी कर सकता है।

सूजन के लक्षण

शरीर के जिस हिस्से में सूजन होती है, उस हिस्से में खुजली होना, त्वचा का शुष्क होना, कमजोरी, बुखार, पेट फूलना, त्वचा में खिंचाव होना या चोट लगने वाले हिस्से में दर्द महसूस होना जैसे लक्षण महसूस हो सकते हैं।

सूजन दूर करने के घरेलू उपाय

गाजर के बीज

एक गिलास पानी में दो चम्मच गाजर के बीजों को आंच में उबालें और फिर इसे ठंडा करके पियें। इस उपाय को प्रतिदिन करने से सूजन तेजी से कम हो सकती है।

मक्खन

मक्खन में काली मिर्च के चूर्ण को डाल कर अच्छे से मिलाकर सेवन करते रहने से थोड़े ही दिनों में सूजन खत्म हो सकती है। लेकिन ध्यान रहे कि बहुत अधिक मात्रा में नमकीन मक्खन का सेवन न करें।

कच्चा आलू

ऐसा माना जाता है कि आलू सूजन कम करने में सहायक है। 400 ग्राम पानी में 200 ग्राम कच्चे आलू को काटकर आंच में उबालें और इसे सूजन पर सेक करें। आलू के टुकड़ों का लेप करने से सूजन जल्दी खत्म हो सकती है।

तरबूज के बीज

तरबूज के बीजों को छाया में सुखा लें और इन्हें पीस लें। इसके बाद एक कप पानी में तीन-चार चम्मच तरबूज के जिसे बीजों को मिलाकर एक घंटे के लिए भिगो लें और इसे छानकर पीते रहने से सूजन कम हो सकती है। दिन में कई बार इसके सेवन से जल्दी लाभ मिलेगा।

हल्दी वाला दूध

एक गिलास गर्म दूध में एक चम्मच हल्दी का पाउडर और पिसी हुई मिश्री को मिलकर प्रतिदिन पीने से सूजन दो-तीन दिन में खत्म हो सकती है। लेकिन सूजन खत्म होने या कम होने की स्थिति में इस उपाय को बंद न करें। कम से कम 3-4 माह इस उपाय को जरूर करें। ताकि आपको फिर से सूजन की समस्या ना हो।

जौ का पानी

जौ में वो सभी तत्व पाए जाते हैं जो शरीर के लिए जरूरी हैं। एक लीटर पानी में एक कप जौ को उबालकर और फिर इसे ठंडा करके पीते रहने से सूजन कम होने लगती है। इस उपाय को नियमित रूप से करते रहना चाहिए।

सरसों का तेल

350 ग्राम सरसों के तेल में 120 ग्राम लाल मिर्च के चूर्ण को मिलाकर इसे आंच पर गर्म करें और उबलने के बाद इसे छान लें और सूजन वाली जगह पर इसका लेप लगाएं। ऐसा करने से सूजन ठीक हो सकती है।

धनिया के पत्ते

धनिया की ताजी पत्तियों और धनिया के सूखे बीजों दोनों में ही सूजन को ठीक करने के गुण पाए जाते हैं। पैरों में सूजन होने पर एक कप पानी को उबालने के लिए रख दें इसमें 3 चम्मच साबुत धनिया डाल दें। इसे उबालकर पकने दें। जब तक कि पानी आधा ग्लास ना रह जाए। अब इसे आंच से उतारकर छान लें और एक चम्मच शहद डालकर दिन में दो बार पिएं।

जैतून का तेल

थोड़े से जैतून के तेल में लहसुन की दो तीन काली काटकर भून लें और फिर इसमें से लहसुन अलग कर लें। अब इस तेल को पैरों पर लगा कर दिन में दो-तीन बार मालिश करें। इससे पैरों की सूजन ठीक होती है और दर्द से भी राहत मिलता है।

Post a Comment

0 Comments