युवक के मोबाईल में था कुछ ऐसा देखकर पुलिस खा गई चक्कर, 500 औरतों के…





गाजियाबाद। सिर्फ शौक के लिए दिल्ली, गाजियाबाद, हरियाणा, पंजाब, महाराष्ट्र समेत कई राज्यों की महिलाओं को वॉट्सऐप पर परेशान करने वाले युवक को साइबर सेल ने गिरफ्तार किया है। कविनगर थाना क्षेत्र में दर्ज हुई रिपोर्ट के बाद कार्रवाई करते हुए जब पुलिस ने रोहतक (हरियाणा) के रहने वाले युवक को गिरफ्तार कर उसके मोबाइल की जांच की तो पुलिस हैरान हो गई। मोबाइल में 500 से अधिक महिलाओं के नंबर और चैट थे।

सीओ फर्स्ट अभय मिश्रा ने बताया कि आरोपी का नाम दीपक है। वह कुछ ऐप का प्रयोग कर महिलाओं को परेशान कर रहा था। शिकायत के बाद आईपी एड्रेस के माध्यम से कार्रवाई करते हुए आरोपित तक पहुंचा गया है। पुलिस उसके मोबाइल की जांच कर रही है। पुलिस के अनुसार आरोपी 5वीं पास है और उसकी उम्र 22 साल है। पूछताछ में उसने बताया कि उसे सिर्फ लड़कियों से बात करना अच्छा लगता था लेकिन कोई महिला मित्र नहीं होने पर उसने उनसे बात करने का यह तरीका निकाला।

मेसेज और कॉल के लिए करता था ऐप का प्रयोग
पुलिस ने बताया कि आरोपी युवक किसी भी नंबर को डायल करता था, अगर उसे महिला उठाती थी तो उसे सेव कर वॉट्सऐप मेसेज करना शुरू कर देता था। मेसेज और कॉल के लिए ऐप का प्रयोग करता था, जिसमें उसका नंबर न शो होकर विदेशी नंबर आते थे। कविनगर थाने के जिस मामले में आरोपी की गिरफ्तारी हुई है, उसमें साउथ कोरिया और फिलिपिन्स की आईडी वाले नंबरों का प्रयोग किया गया था।

निर्वस्त्र होकर करता था विडियो कॉल
पूछताछ में सामने आया कि आरोपी पहले सिर्फ बात करने का प्रयास करता था। इसके बाद वह अश्लील विडियो भेजता था। वह उन्हें कभी भी दिन में निर्वस्त्र होकर कॉल करता था और उन्हें भी वैसे ही विडियो में आने की धमकी देता था। कुछ महिलाओं ने उसके नंबर को ब्लॉक किया तो उसने दूसरे नंबरों से परेशान करना शुरू कर दिया। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसका मकसद सिर्फ फिजिकल रिलेशन बनाना था। इसके लिए वह महिलाओं को परेशान करता था। उसने कुछ को तो बदनाम करने तक की धमकी दी है।

कई महिलाओं ने डर के चलते मानी बात
पुलिस जांच में सामने आया है कि हरियाणा में कुछ महिलाओं ने आरोपी से परेशान होकर उसकी बात तक मानी। हालांकि बदनामी के डर से उन्होंने उसकी शिकायत नहीं की। जिससे उसका हौसला बढ़ा। इस लड़के ने और भी महिलाओं को परेशान करना शुरू कर दिया। सीओ ने बताया कि इस मामले में आरोपी के खिलाफ शिकायतें नहीं होना सबसे बड़ा कारण रहा।

एक महिला के हौसले से आरोपित आया पकड़ में
सीओ ने बताया कि इस मामले में सबसे बड़ी बात शिकायत होना था। ज्यादातर महिलाओं ने या तो नंबर बदल लिए या फिर आरोपी की बात मानी। गाजियाबाद में कविनगर थाना क्षेत्र की एक महिला वकील को जब इसने परेशान किया तो उन्होंने हिम्मत दिखाई और इस मामले में मुकदमा दर्ज करवाया। इसके बाद पुलिस आरोपी के गिरेबान तक पहुंच सकी है।

साइबर बुलिंग को रोकना है तो महिलाओं का आगे आना होगा
कविनगर थाने में इस मामले में शिकायत करने वाली महिला ने बताया कि गिरफ्तार होने से पहले तक भी युवक ने उन्हें मेसेज और विडियो भेजे हैं। उन्होंने बताया कि अगर साइबर बुलिंग (गंदी भाषा, तस्वीरों या धमकियों से इंटरनेट पर तंग करना) को रोकना है तो महिलाओं को आगे आना होगा, नंबर बदलने या ब्लॉक करने से यह नहीं रुकेगा। जब तक इस प्रकार के मामलों में शिकायत के बाद आरोपितों पर एक्शन नहीं होगा यह चलता रहेगा।

10 दिन में महिलाओं को परेशान करने वाले 3 आरोपी गिरफ्तार
पुलिस ने बताया कि इस मामले में पुलिस को भी शिकायत दर्ज करवाने के सिस्टम को भी आसान करना होगा, थानों में पुलिस रिपोर्ट दर्ज करने के स्थान पर पीड़ित से ही सवाल करने लगती है। सीओ अभय मिश्रा ने कहा कि इस प्रकार के मामले में महिलाएं अपने नजदीकी थाने में शिकायत दर्ज करवाएं, टीम ऐसा करने वालों को गिरफ्तार कर एक्शन लेगी। पिछले 10 दिन में महिलाओं को परेशान करने वाले 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है।
ऐसी ही अन्य खबरों के लिए अभी हमारी वेबसाइटHimachalSe पर जाएँ

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...