Kangra: बिना सैंपल लिए युवती को बना डाला कोरोना पॉजिटिव

Uploading: 245760 of 588535 bytes uploaded.


पिछले कई माह से स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातार कोरोना से जंग लड़ रही है। इसके अलावा स्वास्थ्य विभाग बार-बार लोगों से कोरोना के लक्षण होने पर सैंपल देने की बात कह रहा है तथा पॉजिटिव आने पर मरीजों को होम आइसोलेट में रहने व उनका उपचार वहीं पर करवाया जा रहा है। बैजनाथ में एक मामला ऐसा भी सामने आया है कि जहां एक कोरोना पॉजिटिव टैस्ट के लिए युवती द्वारा किए गए आवेदन के बाद बिना जांचे परखे या बिना टैस्ट लिए ही उक्त युवती को स्वास्थ्य विभाग की ओर से कोरोना पॉजिटिव घोषित कर दिया गया।

यह वाकया बैजनाथ उपमंडल के एक गांव में तब सामने आया जब युवती को विभाग की तरफ से दूरभाष पर सूचित किया गया कि उसके टैस्ट की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, लेकिन विभागीय अधिकारियों के पैरों तले जमीन तब खिसकी जब युवती के परिजनों ने बताया कि अभी तक युवती ने सैंपल दिया ही नहीं तो वे कोरोना पॉजिटिव कैसे घोषित कर दी गई।

जानकारी मुताबिक बीते शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग की ओर से बैजनाथ के सिविल अस्पताल में लगभग 9 कोरोना संक्रमित लक्षणों वाले लोगों के सैंपल लिए गए थे, जिसमें से 4 कोरोना पॉजिटिव की लिस्ट जारी हुई थी। उक्त युवती का भी नाम भी उसी लिस्ट में दर्ज था लेकिन बीमार होने के चलते उसके परिजन उसे डॉक्टर से चैक करवाने ले गए व युवती शुक्रवार को सैंपल नहीं दे सकी थी।

विभाग ने अपनी चूक को सुधारने के लिए एक बार फिर शुक्रवार को 4 लोगों के सैंपल दोबारा लिए। उधर, खंड चिकित्सा अधिकारी दिलावर सिंह ने बताया कि बीते शुक्रवार को लिए 9 सैंपलों को लेने के बाद जो 4 लोग कोरोना पॉजिटिव आए थे, उनमें से एक 38 वर्षीय युवती भूलवश कोरोना पॉजिटिव घोषित हुई थी जबकि उक्त युवती का सैंपल रविवार को लिया गया है। उन्होंने बताया कि भविष्य में इस प्रकार की त्रुटि की पुनरावृत्ति नहीं हो, इस लिए पुख्ता कार्रवाई विभाग की ओर से की जा रही है।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...