हमीरपुर: बसों की बजाय निजी वाहनों में परीक्षा केंद्रों तक पहुंचे अभ्यर्थी

हमीरपुर: बसों की बजाय निजी वाहनों में परीक्षा केंद्रों तक पहुंचे अभ्यर्थी

हमीरपुर: जिले में एचएएस और नीट की परीक्षा देने के लिए अभ्यर्थियों ने पब्लिक ट्रांसपोर्ट की बजाय निजी वाहनों में ही आवाजाही मुनासिब समझी। वाहनों की संख्या अधिक होने से जिले के कई हिस्सों जिला मुख्यालय, सलासी, खरवाड़ आदि में सड़क पर जाम लग गया। जिलाभर में बनाए गए पार्किंग स्थान वाहनों से भर गए। जिला मुख्यालय में जिन अभिभावकों और अभ्यर्थियों को वाहन खड़ा करने के लिए जगह नहीं मिली, पुलिस ने उन्हें बस अड्डा हमीरपुर में वाहन खड़ा करने की सुविधा दी।

जिलाभर में हजारों अभ्यर्थी परीक्षा देने पहुंचे थे। एचआरटीसी की ओर से परीक्षा के लिए पांच रूटों पर बसें भी चलाईं गईं थीं, लेकिन अधिकतर लोग अपने वाहनों पर परीक्षा केंद्रों में पहुंचे। सुबह व शाम एचआरटीसी के बसों में दस से पंद्रह सवारियां ही परीक्ष केंद्र आईं। वहीं, कुछ निजी बस ऑपरेटरों ने भी बसें चलाई थीं, जिन्हें भी कुछ खास सवारियां नहीं मिलीं।

परीक्षा खत्म होने के बाद जिला मुख्यालय की सड़कों और आसपास गाड़ियों का जमघट लग गया और जाम की स्थिति उत्पन्न हो गई। कुछ अभ्यर्थी टैक्सी करके भी परीक्षा देने पहुंचे। हजारों की संख्या में आए अभ्यर्थियों के कारण जिला मुख्यालय में दिनभर वाहनों की आवाजाही होती रही। आरएम हमीरपुर विवेक लखनपाल ने कहा कि बसों में कम ही सवारियां रहीं। अधिकतर लोगों निजी वाहनों में ही परीक्षा देने पहुंचे।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...