3 दिन में 10 हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने की पावन पिंडी की पूजा-अर्चना

3 दिन में 10 हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने की पावन पिंडी की पूजा-अर्चना

धार्मिक स्थल चिंतपूर्णी में पिछले 3 दिनों में 10 हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने मां चिंतपूर्णी के दरबार में पावन पिंडी की पूजा-अर्चना की। मंदिर अधिकारी ओपी लखनपाल ने बताया कि 10 सितम्बर को मंदिर खोलने के बाद 20 सितम्बर तक 10 दिनों में मंदिर न्यास को 28 लाख 83 हजार 562 रुपए श्रद्धालुओं द्वारा चढ़ाए गए प्राप्त हुए हैं। उन्होंने बताया कि चिंतपूर्णी मंदिर में जो श्रद्धालु अपनी श्रद्धा अनुसार प्रसाद या अन्य वस्तु मंदिर में छोड़ रहे हैं उन्हें मंदिर न्यास अपने पास जमा कर रहा है। इस सामान को कुछ समय बाद सैनिटाइज किया जाएगा। उसके बाद जिलाधीश संदीप कुमार के निर्देशानुसार अगली कार्रवाई की जाएगी।

दुकानदारों को अभी तक कोई बड़ी राहत नहीं
चिंतपूर्णी मंदिर खुलने के बाद अभी तक दुकानदारों को कोई बड़ी राहत नहीं मिली है। दुकानदारों द्वारा दुकानें तो खोल दी गई हैं लेकिन अभी भी कारोबार ठप्प पड़ा हुआ है। 8 घंटे दुकान खोलने के बाद 200 रुपए का आंकड़ा भी दुकानदार पार नहीं कर पा रहे हैं, ऐसे में इन लोगों में अभी भी रोष है। स्थानीय दुकानदारों रमेश कालिया, राजेश, सतीश कालिया, ललित कालिया, कुंदन गर्ग अन्य दुकानदार ने बताया कि श्रद्धालुओं को मंदिर से वापस मुख्य बाजार से भेजने की व्यवस्था की जाए। अधिक भीड़ होने पर बेशक मंदिर न्यास वापसी के श्रद्धालुओं को भेज दे लेकिन यदि माथा टेकने के बाद यात्रियों को वापस मुख्य बाजार से नहीं भेजा जाता है तो करीब 100 दुकानदारों को लॉकडाऊन जैसी स्थिति से गुजरना पड़ेगा।

चिंतपूर्णी सदन में हाे दर्शन पर्ची तथा स्क्रीनिंग की व्यवस्था
लोगों ने जिला प्रशासन से मांग की है कि श्रद्धालुओं को चिंतपूर्णी सदन में ही दर्शन पर्ची तथा स्क्रीनिंग की व्यवस्था की जाए तथा श्रद्धालुओं को मंदिर में जाने के लिए एक और गेट नंबर 2 से ही भेजा जाए। उन्होंने कहा कि चिंतपूर्णी सदन में दर्शन पर्ची देने के बाद वैष्णो देवी की तर्ज पर 50-50 आदमियों का ग्रुप बनाकर मंदिर में दर्शन करने के लिए भेजा जाए ताकि श्रद्धालु सोशल डिस्टैंस की पालना कर मंदिर में प्रवेश करें।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...