---Third party advertisement---

कांगड़ा के अमन शर्मा व हर्षुल राणा बने भारतीय सेना में अधिकारी

कांगड़ा के अमन शर्मा व हर्षुल राणा बने भारतीय सेना में अधिकारी

कांगड़ा जिला के उपमंडल ज्वाली के अंतर्गत आती ग्राम पंचायत ढसोली के एक छोटे से गांव तिहाल के अमन शर्मा शनिवार 13 जून को भारतीय सेना में लैफ्टिनैंट बनकर भारतीय सैन्य अकादमी (आईएमए) देहरादून से पासआऊट हुए। अमन शर्मा के पिता राजेश शर्मा पिछले साल ही प्रदेश शिक्षा विभाग से सेवानिवृत्त हुए हैं और उनकी माता मंजू लता शर्मा गृहिणी हैं जबकि छोटी बहन आकृति शर्मा राजकीय महाविद्यालय धर्मशाला में बीएससी अंतिम वर्ष की छात्रा है।


मेजर व उनकी पत्नी ने निभाई अभिभावक की भूमिका

देहरादून आईएमए के इतिहास में प्रथम बार कोविड-19 महामारी के चलते पासिंग आऊट परेड नवनियुक्त अफसरों के अभिभावकों एवं माता-पिता की गैर-मौजूदगी में संपन्न हुई। अमन शर्मा को मेजर इशान और उनकी पत्नी ने बतौर अभिभावक बनकर स्टार लगाने की रस्म को पूरा किया। अमन शर्मा भारतीय सेना की आर्टिलरी रैजीमैंट में जम्मू-कश्मीर के द्रास सैक्टर में अपनी सेवाएं देंगे। अमन शर्मा ने भारतीय सेना में इस प्रतिष्ठित पद को प्राप्त करने का श्रेय अपने पूरे परिवार, अध्यापकों और अपनी कड़ी मेहनत को दिया। बेटे की इस सफलता एवं उपलब्धि पर माता-पिता और दादा शाम लाल सहित पूरा परिवार गद्गद् है तथा वे गर्व महसूस कर रहे हैं।


परौर के हर्षुल राणा ने सेना में प्राप्त किया कमीशन

वहीं परौर के हर्षुल राणा ने सेना में अधिकारी के रूप में पदार्पण करने का गौरव प्राप्त किया है। शनिवार को मिलिटरी अकादमी देहरादून में आयोजित पासिंग आऊट परेड में देश को मिले 333 सैन्य अधिकारियों में परौर के हर्षुल राणा भी शामिल रहे। माऊंट कार्मल स्कूल से प्रारंभिक शिक्षा प्राप्त करने के दौरान ही हर्षुल का चयन सैनिक स्कूल टीहरा सुजानपुर के लिए हुआ और वहीं पर शिक्षा ग्रहण करने के बाद सेना में कमीशन प्राप्त किया। हर्षुल की माता सरिता व पिता डिंपल राणा शिक्षक हैं जबकि हर्षुल के नाना वायुसेना से अधिकारी के रूप में सेवानिवृत्त हुए हैं।
हिमाचल की ताज़ा ख़बरों के लिए अभी लाइक करें हमारा फेसबुक पेज
loading...

Post a comment

0 Comments