दसवीं में 94 % अंक लाने वाली हिना बनी एक दिन की एसडीएम, पिता इसी दफ्तर में हैं चपरासी

दसवीं में 94 % अंक लाने वाली हिना बनी एक दिन की एसडीएम, पिता इसी दफ्तर में हैं चपरासी

हिमाचल /कांगड़ाः दसवीं कक्षा में 94 फीसदी अंक हासिल करने वाली होनहार बेटी को एसडीएम कांगड़ा ने एक दिन के लिए अपने पद पर बिठाया है. एसडीएम कांगड़ा जतिन लाल ने एसडीएम कार्यलय में कार्य कर रहे कर्मचारी की बेटी को दसवीं कक्षा में बेहतर अंक लाने पर एक दिन के लिए अपने पद पर बिठाया वहीं, 14 वर्ष की हिना ठाकुर ने एसडीएम के पद पर पूरा दिन प्रशासनिक अधिकारी की तरह बिताया एसडीएम जतिन लाल भी पूरा दिन के हिना की बगल में बैठे रहे।

 हिना सुबह से एसडीएम कार्यलय की बैठकें एसडीएम के मार्गदर्शन में ले रही हैं.बाहर से आ रहे लोग अपनी समस्याएं एक दिन की एसडीएम हिना को बता रहे हैं और उनके सामने ही एसडीएम ने 14 साल की हिना ठाकुर को एसडीएम कांगड़ा की कुर्सी पर बिठाया. एसडीएम हिना ठाकुर का कहना है कि यह उनके लिए सपने की तरह है।

वह इस सपने को साकार करेंगी. एसडीएम जतिन लाल ने जो सपना दिखाया है, उसे वे जरूर पूरा करेंगी. हिना का कहना कि पहले वह डॉक्टर बनेगी उसके बाद आईएएस ऑफिसरएसडीएम जतिन लाल ने बताया कि उन्हें कल उनके कार्यालय में काम करने वाले चपरासी ने बताया कि उसकी बेटी ने दसवीं में 94 फीसदी अंक हासिल किए हैं. बेटी ने मेरिट में 34वां स्थान हासिल किया है. उन्होंने बताया कि बेटी को सम्मानित करने के लिए कार्यालय बुलवाया गया. बेटी ने कहा कि वो आईएएस अफसर बनना चाहती है. फिर सोचा कि बेटी को एक दिन की एसडीएम बनाया जाए. आज हिना ही एसडीएम है और पूरा कामकाज वही देख रही है।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...