---Third party advertisement---

1.95 लाख को वापस लाई हिमाचल सरकार, रैली में बोले सीएम; क्वारंटाइन सेंटर्ज में ही आ रहे केस

1.95 लाख को वापस लाई हिमाचल सरकार, रैली में बोले सीएम; क्वारंटाइन सेंटर्ज में ही आ रहे केस

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने शुक्रवार को शिमला से भाजपा मंडल धर्मशाला और मंडी की वर्चुअल रैली में कहा कि कोविड-19 ने पूरे विश्व के समक्ष बड़ी चुनौती खड़ी की है। हमारे देश के लिए यह सौभाग्य की बात है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गतिशील नेतृत्व में इस महामारी का सामना प्रभावी रूप से किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि विश्व के सर्वाधिक प्रभावित 15 देशों में 4.23 लाख लोगों की मृत्यु हुई है और इन देशों की कुल आबादी 142 करोड़ है। वहीं, 135 करोड़ की जनसंख्या वाले भारत में लगभग 8300 लोगों ने अपनी जान गंवाई है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हिमाचल के लगभग 1.95 लाख लोगों को देश के विभिन्न राज्यों से वापस लाया गया है, जिस कारण कोरोना वायरस के रोगियों की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ है। उन्होंने कहा कि इस महमारी को लेकर चिंता करने की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि बाहर से आने वाले लोगों को संस्थागत और होम क्वारंटाइन में रखा जा रहा है। प्रदेश की आर्थिकी को पटरी पर लाने के लिए मंत्रिमंडलीय उपसमिति और टास्क फोर्स गठित की गई हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में मनरेगा गतिविधियां पुनः आरंभ की गई हैं और लोक निर्माण विभाग व जल शक्ति विभाग की परियोजनाओं पर कार्य बहाल हो चुका है।

 उन्होंने कहा कि धर्मशाला का विकास राज्य सरकार की प्राथमिकता है और इस नगर को स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित करने के कार्य में गति लाई जाएगी। उधर मंडी की वर्चुअल रैली को संबोधित करते मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि नगर परिषद मंडी और मंडी सदर में अन्य भाजपा पदाधिकारियों ने कोरोना महामारी के दौरान हुए लॉकडाउन में जरूरतमंदों को भोजन, आवास तथा अन्य आवश्यकताओं को पूरा करने में सराहनीय कार्य किया है।

मंडी के पास इंटरनेशनल एयरपोर्ट की कोशिशें

सीएम ने कहा कि मंडी शहर की धार्मिक और पर्यटन महत्ता के दृष्टिगत यहां कई विकासात्मक परियोजनाओं पर भी कार्य चल रहा है। मंडी और कुल्लू-मनाली क्षेत्र में आने वाले पर्यटकों की सुविधा के लिए मंडी के निकट अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा विकसित करने के प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि कंगनीधार के निकट शिवधाम विकसित किया जा रहा है, जो पर्यटकों के लिए अतिरिक्त आकर्षण होगा। मंडी शहर व इसके साथ लगते क्षेत्रों में 68.57 करोड़ रुपए की लागत से मलनिकासी परियोजनाओं का निर्माण किया जाएगा।
हिमाचल की ताज़ा ख़बरों के लिए अभी लाइक करें हमारा फेसबुक पेज
loading...

Post a comment

0 Comments