---Third party advertisement---

Himachal: बिना मास्क घूम रहे व्यक्ति को सड़क पर थूकने से रोका तो रात को गुंडे बुला कर दी डॉक्टर की पिटाई

बिना मास्क घूम रहे व्यक्ति को सड़क पर थूकने से रोका तो रात को गुंडे बुला कर दी डॉक्टर की पिटाई
HimachalSe: बिना मास्क घूम रहे व्यक्ति को सड़क पर थूकने से रोका तो रात को गुंडे बुला कर दी डॉक्टर की पिटाई बिलासपुर शहर के रोड़ा सेक्टर में स्वास्थ्य केंद्र में तैनात चिकित्सक पर कुल लोगों ने हमला कर दिया। चिकित्सक इन दिनों कोरोना महामारी की ड्यूटी दे रहे हैं। बागी बिनौला का रहने वाले डॉक्टर ड्यूटी ऑफ करके घर जा रहा था तो कुछ लोगों ने उस पर हमला कर दिया। इस दौरान डॉक्टर को मामूली चोटें आई हैं। उसे जिला अस्पताल में इलाज के बाद घर भेज दिया। डॉक्टर का भी पुलिस ने मेडिकल करवा लिया है। वारदात के बाद हमलावर फरार हैं। पुलिस ने इस मामले में हमलावरों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कर ली है।

हमले का शिकार हुए बागी बिनोला निवासी डॉ. निशांत ठाकुर ने बताया कि वह इन दिनों कोरोना महामारी के लिए ड्यूटी कर रहे हैं और अलग-अलग हिस्सों में स्थापित किए गए क्वारंटाइन सेंटरों में लोगों के ब्लड सैंपल संग्रहण का काम कर रहे हैं। पिछले कई दिनों से इस काम में जुटे होने के कारण उन्हें सीएमओ बिलासपुर ने होम क्वॉरंटाइन में जाने के आदेश दिए थे, जिनका पालन करते हुए वह अपने घर गाड़ी में सवार होकर बागी बिनौला जा रहे थे। बीच रास्ते में कुछ लोगों ने उनका गाड़ी में पीछा किया और अचानक गाड़ी रोककर उन्हें गाड़ी से बाहर खींचा और मारपीट की।

डॉक्टर निशांत ने बताया कि मारपीट करने वाले मुख्य आरोपित को वह खुद अच्छी तरह पहचानते हैं। लेकिन उसका नाम ही जानते हैं इस व्यक्ति को उन्होंने करीब 5 दिन पहले बिलासपुर शहर के गुरुद्वारा मार्केट में बगैर मास्क के घूमने और सड़क पर थूकने से मना किया था। हिमाचलसे.कॉम जिस कारण वह नाराज हो गया था जब इन हमलावरों ने उन्हें सागर व्यू होटल के पास हाईवे पर रोका तो एक बार फिर मुख्य आरोपित ने सड़क पर थूकते हुए कहा कि अगर वह अब उसे रोक सकता है तो रोक ले और उसके साथ ही सभी ने मिलकर उसके साथ मारपीट की। डॉक्टर ने सदर थाना में इस मामले की शिकायत दी है।

एसपी दिवाकर शर्मा ने बताया इस संबंध में डॉक्टर के बयान पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। हमलावरों की पहचान की जा रही है। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा। उन्होंने बताया पुलिस ने शिकायतकर्ता डॉकटर का भी मेडिकल करवा लिया है। यह मेडिकल ऑफिसर्स एसोसिएशन हिमाचल प्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. पुष्पेंद्र ने कहा कि पुलिस तुरंत आरोपितों को गिरफ्तार करें और इस संबंध में कड़ी कार्रवाई की जाए ताकि कोरोना महामारी में अपनी जान पर खेलकर लड़ रहे डॉक्टरों का मनोबल न टूटे।
हिमाचल की ताज़ा ख़बरों के लिए अभी लाइक करें हमारा फेसबुक पेज
loading...

Post a comment

0 Comments