बाहरी राज्यों से हिमाचल लौटने वालों पर रोक लगाने की तैयारी में सरकार, CM ने दिए संकेत


बाहरी राज्यों से हिमाचल लौटने वालों पर रोक लगाने की तैयारी में सरकार, CM  ने दिए संकेत

बाहरी प्रदेशों के रैड जोन क्षेत्रों से लौट रहे लोगो की वजह से हिमाचल में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। बुधवार को आंकड़ा 104 पहुंच गया है और आने वाले दिनों में यह संख्या और बढ़ सकती है। इसे देखते हुए राज्य सरकार अब कड़ा फैसला लेने की तैयारी में है। सरकार जल्द सीमाएं सील कर बाहरी प्रदेशों से लौटने वालों की आवाजाही पर रोक लगा सकती है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने इस बात के संकेत दिए हैं। शिमला में आज पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत में मुख्यमंत्री ने कहा कि बाहर से हिमाचल लौट रहे लोगों के कारण कोरोना के मामले बढ़ना स्वभाविक है और मामलों में अभी और बढ़ोतरी होने की संभावना है। उन्होंने कहा कि बाहर फंसे लोगों को हिमाचल लाना सरकार की नैतिक ज़िम्मेदारी थी और मानवीय दृष्टिकोण से यह कदम उठाया गया है। हिमाचल के जो भी लोग बाहरी राज्यों में फंसे हैं, वे वापिस आ जाएं, इसके बाद दूसरे प्रदेशों से आने वालों की आवाजाही पर रोक लगाई जाएगी।

 जयराम ने कहा कि बाहर से घर वापसी करने वाले हिमाचल के लोग उन इलाकों में खुद को असहाय महसूस कर रहे थे, जहां कोरोना बुरी तरह फैल चुका है। इन क्षेत्रों में रहने वाले हिमाचली हर ओर से कोरोना मरीजों से घिरे हुए थे और इन हालातों में उन्हें वहां मरने के लिए नहीं छोड़ा जा सकता था, लिहाजा सरकार ने उन्हें वापिस लाने की कवायद शुरू की और बड़ी तादाद में लोग हिमाचल लौट सके। उन्होंने यह भी कहा कि रेड जोन से आने वालों को सीधे घर नहीं भेजा जा रहा है। संस्थागत क्वारेंटाइन में रखकर उनके नमूने लिए जा रहे हैं और संक्रमित निकलने पर अस्पतालों में भर्ती किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आगामी दिनों में प्रदेश सरकार कोरोना की प्रतिदिन टैस्टिंग की क्षमता को 1000 से भी अधिक करेगी। हिमाचल देश में सबसे अधिक टैस्टिंग करने वाला प्रदेश बन जाएगा।

जयराम ठाकुर ने कोरोना पर चर्चा के लिए विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने की मांग करने वाले नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के समय नेता प्रतिपक्ष राजनीति कर रहे हैं।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...