शिमला में भयंकर अग्निकांड, दो साल के मासूम की झुलसकर मौत; चार दुकानें भी जलीं

शिमला में भयंकर अग्निकांड, दो साल के मासूम की झुलसकर मौत; चार दुकानें भी जलीं Shimla News

राजधानी शिमला में आग की दो घटनाएं सामने आई हैं। एक मामला ढली थाने के तहत सामने आया है। इसमें डाक बंगला में ढारे में रह रहे नेपाली परिवार इसकी चपेट में आया है। पुलिस के मुताबिक रात के समय डाक बंगला स्थान पर संत बहादुर नेपाली मजदूर के ढारे में अचानक लगी आग से पूरा परिवार चपेट में आ गया। इस परिवार में पति पत्नी और छह बच्चों के साथ रहते थे।

आग की इस घटना में नेपाली परिवार का दो साल का बच्चा चपेट में आ गया। इसे गंभीर हालत में आइजीएमसी लाया गया, लेकिन वहां डाक्टरों ने इसे मृत घोषित कर दिया।

वहीं राजधानी के बालूगंज थाने के तहत समरहिल बाजार में रात दो बजे पीएनबी एटीएम को पास चाइना टाउन फास्ट फूड शाॅप में आग लगी। इसका मालिक हरजीत सिंह बताया जा रहा है। उसके मुताबिक 30 हजार रुपये का नुकसान हुआ है। साथ ही सब्जी की दो ढारे भी जल गए। ये सब्जियों से भरी थी।

यह भी पढ़ें: Himachal: घर के आंगन में बैठी महिला को बैल ने मारी टक्कर, मौत

ढारा सोनू गुप्ता और  चंदा देवी का बताया जा रहा है। दोनों में ही आठ से दस हजार से ज्यादा की सब्जियां थी। दोनों जलकर पूरी तरह से राख हो गए हैं। दुकान के साथ ही कबाड़ी वासु का सामान भी जलकर राख हुआ। इसमें भी करीब आठ से दस हजार से ज्यादा का नुकसान हुआ है।

आग लगने की सूचना मिलने के बाद अग्निशमन विभाग के वाहन मौके पर पहुंच गए थे। काफी मशक्कत के बाद इस आग पर काबू पाया जा सका। पुलिस चौकी इंचार्ज समरहिल से लेकर अन्य कर्मचारी रात भर डयूटी पर तैनात रहे। इन दोनों ही मामलों में पुलिस अब आग के कारणों को पता लगाने में लगी है।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...