---Third party advertisement---

कोविड सेंटर बनाने पर बैजनाथ के लोगों में हड़कंप


बैजनाथ स्थित पंचायती राज प्रशिक्षण संस्थान को प्रशासन द्वारा कोविड-19 केयर सेंटर में परिवर्तित किए जाने पर आसपास के बाशिंदों में खौफ का माहौल पनप रहा है। गुरुवार को उपायुक्त कांगड़ा राकेश प्रजापति ने बैजनाथ स्थित उस सेंटर का दौरा किया। इनके साथ पुलिस अधीक्षक कांगड़ा विमुक्त रंजन, सीएमओ कांगड़ा डा. जीडी गुप्ता, एसडीएम छवि के साथ बीएमओ महाकाल  भी मौजूद थे। इस दौरान पंचायती राज सेंटर में के आसपास रहने वाले करीब 50 लोग उपायुक्त से मिले।

इस मौके पर नगर पंचायत अध्यक्ष रुचि कपूर, पार्षद अमित कपूर, पार्षद छवि शर्मा, बालकृष्ण ने भी उपायुक्त के समक्ष समस्या रखी। इन्होंने कहा कि जिस जगह पर कोविड सेंटर बनाया है व जमानाबाद से कोरोना पीडि़त यहां लाया गया है, वह पूरा इलाका रिहायशी है, ऐसे में डर के मारे यहां रहना भी खौफ से कम नहीं है। पंचायती राज सेंटर के आसपास रहने वालों में दहशत का माहौल है।

वहीं यहां के लोगों ने विधायक मुलख राज प्रेमी व राज्यसभा सांसद इंदु गोश्वामी को फोन पर समस्या से अवगत करवाया है। लोगों की बात सुनने के बाद उपायुक्त कांगड़ा राकेश प्रजापति ने उनको भरोसा दिलाया की उन्हें घबराने की जरूरत नहीं है। इस सेंटर को दिन में दो बार सेनेटाइज किया जाएगा। यहां पर एक मेडिकल आफिसर के अतिरिक्त तीन लोगों को ड्यूटी पर तैनात किया गया है।

उपायुक्त ने बताया कि जिला कांगड़ा में तीन कोविड-19 सेंटर फतेहपुर, ज्वालाजी और बैजनाथ में बनाए हैं। प्रत्येक सेंटर में 80 व्यक्तियों को रखा जा सकता है  और प्रशासन के द्वारा यह क्षमता बढ़ाई भी जा सकती है। उन्होंने बताया कि जमानाबाद में गत बुधवार को कोरोना पॉजिटिव आए एक व्यक्ति को अभी बैजनाथ पंचायती राज संस्थान में स्थानांतरित किया गया है। वहीं एसडीएम छवि नांटा ने बताया कि चौबीन के बाछल गांब का व्यक्ति जो जोगिंदरनगर के द्रुबल गांव के कोरोना पॉजिटिव के संपर्क में आया था, वह भी नेगेटिव निकला है।
हिमाचल की ताज़ा ख़बरों के लिए अभी लाइक करें हमारा फेसबुक पेज
loading...

Post a comment

0 Comments