---Third party advertisement---

दुकानदारों पर चला खाद्य आपूर्ति विभाग का डंडा, तय रेट से अधिक सामान बेचने पर 118 पर मामला दर्ज

लॉकडाउन में अब तक करीब 589 दुकानों का जिला सोलन में विभाग निरीक्षण कर चुका है. निरीक्षण के दौरान पाया गया कि कुछ दुकानदार तय दामों से अधिक रेट पर खाद्य वस्तुएं और सब्जियां बेच रहे थे. ऐसे करीब 118 दुकानदारों के खिलाफ विभाग ने मामला दर्ज किया है.
दुकानदारों पर चला खाद्य आपूर्ति विभाग का डंडा, तय रेट से अधिक सामान बेचने पर 118 पर मामला दर्ज - Himachal Se: 
solan market
कोरोना काल में जहां हर व्यक्ति एक दूसरे की मदद करने में लगा है. वहीं, कुछ मुनाफाखोर अभी भी ओवरचार्जिंग करते हुए अपने बैंक खाते भरने में लगे हैं. संकटकाल की इस घड़ी में भी कुछ दुकानदार सब्जियों और खाद्यान वस्तुओं को तय दामों से ज्यादा बेचकर मुनाफा कमाने की सोच रहे हैं, ऐसे ही मुनाफाखोरों पर खाद्य आपूर्ति विभाग सोलन ने नकेल कसी है.

विभाग ने कुल 118 दुकानदारों पर ओवरचार्जिंग करने पर मामले दर्ज किया है. इसके साथ ही जुर्माना भी लगाया है. खाद्य आपूर्ति विभाग के नियंत्रक मिलाप शांडिल ने बताया कि लॉकडाउन में किसी भी तरह से कालाबाजारी ना हो इसके लिए विभाग पहले से ही मुस्तैद था. लॉकडाउन में अब तक करीब 589 दुकानों का जिला सोलन में विभागने निरीक्षण किया है.निरीक्षण के दौरान पाया गया कि कुछ ऐसे दुकानदार तय किये गए दामों से अधिक रेट पर खाद्य वस्तुएं बेच रहे थे.

करीब 118 दुकानदारों के खिलाफ विभाग ने जिला सोलन में मामला दर्ज किया है और उन्हें जुर्माना भी लगाया है. विभाग द्वारा 35 क्विंटल सब्जियां 2 किवंटल फल और 4 क्विंटल अन्य खाद्य पदार्थ इन दुकानों से जब्त किए गए हैं.इन सभी दुकानदारों के खिलाफ आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955 के तहत कार्रवाई की जा रही है.

मिलाप शांडिल ने कहा कि मुनाफाखोरी ना हो इसके लिए विभाग मुस्तैद है और रोजाना दुकानों का औचक निरीक्षण किया जा रहा है. वहीं, सड़क किनारे बैठे सब्जियों को बेचने वालों को भी सख्त हिदायत दी गई है कि रेट लिस्ट लगाएं और तय किए गए दामों से ज्यादा रेट में कोई भी खाद्यान्न व सब्जियां ना बेचें.संकट काल की घड़ी में लोग एक दूसरे के काम आए यही हमारा कर्तव्य होना चाहिए. उन्होंने कहा कि आगे भी इसी तरह से विभाग मुनाफाखोरी और कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करता रहेगा.
हिमाचल की ताज़ा ख़बरों के लिए अभी लाइक करें हमारा फेसबुक पेज
loading...

Post a comment

0 Comments