---Third party advertisement---

हिमखंड की चपेट में आया एक किसान, अपने खेत में हटा रहा था फब्बारे की पाइपें

हिमखंड की चपेट में आया एक किसान, अपने खेत में हटा रहा था फब्बारे की पाइपें

लाहौल में बर्फबारी के बाद एक ही दिन में दो हिमखंड गिरे है। जनजातीय जिला लाहौल-स्पीति की ग्राम पंचायत मूरिंग के तहत आने वाले बरगुल गांव में हिमखंड की चपेट में आने से एक किसान बर्फ में दब गया। सोमवार करीब साढ़े ग्यारह बजे किसान राजेंद्र उम्र 42 वर्ष पुत्र फुचोग निवासी बरगुल अपने खेत में फब्बारे की पाइपें हटा रहा था कि अचानक पहाड़ी से हिमखंड का बड़ा हिस्सा खिसकने से वह दब गया। वहीं सूचना मिलते ही बरगुल में हिमखंड गिरने की सूचना मिली तो बरगुल, मूलिंग और शिपटिंग के लोग बर्फ में दबे किसान को निकालने में जुट गए।

ग्रामीणों की सूचना पर आपदा प्रबंधन का त्वरित कार्यवाही दल, पुलिस, राजस्व और लोनिवि के मजदूर मौके पर पहुंचे। मूलिंग पंचायत प्रधान तजिन आंगमो ने कहा कि बर्फ के मलबे में दबे किसान को निकालने की कोशिश जारी है। वहीं तोद घाटी के दारचा में भी हिमखंड खिसकने से दारचा-केलांग सड़क मार्ग अवरूद्घ हो गया है। हिमखंड इतना बड़ा था कि मलबा करीब एक किमी के दायरे में फैल गया है। ये खबर हिमाचलसे.कॉम से जिससे एक बार फिर सड़क को बहाल करने में मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा। मामले की पुष्टि करते हुए एसडीएम केलांग अमर नेगी ने कहा कि हिमखंड की चपेट में आए किसान की तलाश चल रही है। उन्होंने कहा कि इन दिनों तापमान बढऩे से हिमखंड गिरने की संभावना बनी है। इसलिए लोग आवाजाही के समय सावधानी बरतें।
हिमाचल की ताज़ा ख़बरों के लिए अभी लाइक करें हमारा फेसबुक पेज
loading...

Post a comment

0 Comments