हिमाचल में ऑरैंज अलर्ट ने दिखाया असर, बारिश व बर्फबारी से लौटी ठंड

हिमाचल में ऑरैंज अलर्ट ने दिखाया असर, बारिश व बर्फबारी से लौटी ठंड

प्रदेश में ऑरैंज अलर्ट के बीच मंगलवार को प्रदेश के अधिक ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी और राजधानी शिमला सहित मैदानों में बारिश हुई। कई जगह ओले भी गिरे। मौसम में आए इस बदलाव से अभी भी ठंड का असर बना हुआ है। अगले 2 दिन भी मौसम के खराब रहने के आसार हैं। 3 अप्रैल से समूचे प्रदेश में मौसम साफ हो जाएगा। रोहतांग दर्रे सहित लाहौल-स्पीति, किन्नौर, चम्बा व कुल्लू जिला की चोटियों पर ताजा हिमपात हुआ।

पहाड़ी इलाकों में ठंड का काफी प्रकोप

राजधानी शिमला व आसपास के इलाकों में दिनभर रुक-रुक कर वर्षा होती रही। हमीरपुर, बिलासपुर, ऊना, कांगड़ा व मंडी जिलों में बाद दोपहर मौसम ने करवट ली और गरज के साथ वर्षा का दौर शुरू हो गया। बारिश व बर्फ बारी के चलते तापमान में गिरावट आने से लोगों को सर्दी का अहसास हो रहा है। पहाड़ी इलाकों में ठंड का काफी प्रकोप देखा जा रहा है, वहीं मैदानी इलाकों में भी लोगों को गर्म कपड़ों का सहारा लेना पड़ रहा है।

केलांग में 2.4 डिग्री न्यूनतम तापमान

लाहौल-स्पीति के केलांग में न्यूनतम तापमान 2.4 डिग्री सैल्सियस दर्ज किया गया, वहीं किन्नौर जिला के कल्पा में 3.3, मनाली में 4.4, डल्हौजी में 6.7, कुफ री में 7.8, भुंतर में 8, पालमपुर में 8.5, सुंदरनगर में 9, धर्मशाला व सोलन में 9.2, चम्बा में 9.9, शिमला में 10.2, मंडी में 10.7, कांगड़ा में 11.1 और हमीरपुर में 13.9 डिग्री सैल्सियस दर्ज किया गया।

3 से 6 अप्रैल तक साफ बना रहेगा मौसम

मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के निदेशक डॉ. मनमोहन सिंह ने बताया कि अगले 24 घंटों में भी बारिश व बर्फबारी का दौर जारी रहने का अनुमान है। मैदानों में 2 अप्रैल तथा पर्वतीय व उच्च पर्वतीय इलाकों में 3 से 6 अप्रैल तक मौसम साफ बना रहेगा।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...