कर्फ्यू के बीच दाने-दाने को मोहताज था ये शख्स, फिर मदद करने पहुंच गए ये लोग

कर्फ्यू के बीच दाने-दाने को मोहताज था ये शख्स, फिर मदद करने पहुंच गए ये लोग

कोरोना वायरस के चलते हिमाचल प्रदेश में लॉकडाऊन होने के कारण मंडी जिला के सुंदरनगर में एनएच-21 चंडीगढ़-मनाली पर स्थित नरेश चौक पर एक मानसिक रूप से बीमार व्यक्ति दाने-दाने को मोहताज हो गया है। कोरोना वायरस के चलते जारी कर्फ्यू के कारण ढाबे बंद होने की वजह से इसका खाने का इंतजाम नहीं हो पा रहा था। हालांकि इससे पहले ढाबे वाले इसे खाना खिला देते थे। वहीं मौके के आसपास कोई घर भी मौजूद नहीं है। लेकिन अब हिमाचल में जारी कफ्र्यू की स्थिति के कारण इस मानसिक रोगी को जिंदगी की जंग जीतना मुश्किल हो रहा है।

कर्फ्यू में ढील दिए जाने के दौरान सुंदरनगर के पत्रकार महेश शर्मा,उमेश भारद्वाज और नितेश सैनी द्वारा अपना सामाजिक दायित्व समझते हुए भूख से कहरा रहे इस मानसिक रोगी को खाना मुहैया करवाया गया। वहीं पत्रकारों द्वारा इस व्यक्ति के लिए रात का इंतजाम भी कर दिया गया। पत्रकार महेश शर्मा ने कहा कि इस प्रकार के लोग बीमारी से मरे न मरे लेकिन भूख से जरूर मर जाएंगे। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी की इस विकट परिस्थिति में सावधानी बरतें, दूसरे इंसानों से उचित दूरी बनाए रखें, हाथ पैर साफ करें, अपने आसपास सफाई रखें, सरकार के दिशानिर्देशों की पालना करें और मजबूर भिखारियों व गरीबों को भूखा न सोने दें।

उन्होंने लोगों से भी अपील की है कि अगर उनके आसपास भी इस प्रकार के लोग मौजूद हैं तो लोग उन्हें भी इस परिस्थिति में खाना व दवाई इत्यादि उपलब्ध करवाएं। महेश शर्मा ने प्रशासन से मांग की है कि इस प्रकार के मानसिक रोगियों को जल्द से जल्द किसी अस्पताल में पहुंचाया जाए।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...