अगर आप भी होली में लड़कियों-महिलाओं पर जबरदस्ती रंग डालने की सोच रहें है तो हो जाएँ सावधान! होगी कार्रवाई

अगर आप भी होली में लड़कियों-महिलाओं पर जबरदस्ती रंग डालने की सोच रहें है तो हो जाएँ सावधान! होगी कार्रवाई
होली का त्यौहार लोगों को शांतिपूर्वक ढंग से मनाना होगा। अगर किसी भी तरह की शरारती तत्व ने हरकत की तो पुलिस कार्रवाई करेगी। कुछ असामाजिक तत्व शराब का सेवन करके या जबरदस्ती सूखा या गीला रंग डालकर आम जनता को परेशान करते हैं, जिससे कानून व्यवस्था भी प्रभावित होने का डर रहता है।

पुलिस ने यह तय किया है कि अनजान महिलाओं व लड़कियों पर जबरदस्ती रंग डालने पर तुरंत कार्रवाई होगी। बस स्टैंड व रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों के साथ जबरदस्ती होली नहीं खेलने दी जाएगी और किसी भी यात्री को जबरदस्ती रंग लगाने नहीं दिया जाएगा, वहीं वाहनों में यात्रा कर रहे यात्रियों को भी रंग लगाने के उद्देश्य से नहीं रोका जा सकता है। एस.पी. शिमला ने जिला के पुलिस कर्मियों को भी यह आदेश जारी किए हैं कि होली वाले दिन मोटरसाइकिल चालक एवं पिलियन राइडर दोनों ने हैल्मेट पहने हों व ट्रिपल राइडिंग न होने दें।

छोटे बच्चों द्वारा दोपहिया वाहन चलाने पर विशेष ध्यान रखें तथा नियमानुसार कार्रवाई करें। शराब पीकर दोपहिया या गाड़ी चलाने वालों की गाड़ी जब्त करें तथा चालान करें व लाइसैंस रद्द करने को भेजेंं। अगर लाइसैंस न हो तो गाड़ी के मालिक के विरुद्ध कार्रवाई करें। अस्पतालों के आसपास किसी तरह का संगीत या शोर पूर्णतय: प्रतिबंधित करें। ऐसे लोगों के विरुद्ध नियमानुसार कार्रवाई अमल में लाएं। वर्दी धारण किए हुए किसी भी व्यक्ति जो चाहे स्कूल का विद्यार्थी हो या अस्पताल कर्मचारी या अन्य पर जबदस्ती रंग डालने पर कानूनी कार्रवाई करें। अगर कोई होली के नाम पर जबरदस्ती पैसे मांगे तो 384 भारतीय दंड संहिता के तहत मुकद्दमा दर्ज करें। लाऊड स्पीकर या अन्य ध्वनि उपकरणों का उपयोग कोर्ट के निर्देशों के अनुसार ही होने दें अन्यथा कार्रवाई करें।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...